JAISLAMER NEWS- जैसलमेर के एक गांव में चलना मुश्किल, तो दूसरे में ऐसा पानी पीना मजबूरी

कच्चे मार्गों से आवागमन मुश्किल, काठोड़ी में खारे पानी की आपूर्ति

By: jitendra changani

Updated: 21 Mar 2018, 11:06 AM IST

कच्चे मार्गों से आवागमन मुश्किल
जैसलमेर लाठी क्षेत्र के रतन की बस्सी गांव के बाशिंदों को आज भी पक्की सडक़ का इंतजार है। दशकों से चली आ रही ग्रामीणों की मांग पर प्रशासन, सार्वजनिक निर्माण विभाग व जनप्रतिनिधि इस पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। इसके चलते ग्रामीण आज भी कच्चे व रेतीले मार्गों से आवागमन को मजबूर हैं। लाठी से केरालिया गांव को जोडऩे वाली सडक़ से रतन की बस्सी जाने वाला मार्ग पांच किमी लम्बा है, जो कच्चा मार्ग है। यहां रेत जमा है। ऐसे में आए दिन वाहन इसमें धंस जाते हैं तथा खासी मशक्कत कर उन्हें निकालना पड़ता है।
विद्यार्थी होते हैं परेशान
पक्की सडक़ के अभाव का खामियाजा स्कूली छात्र छात्राओं को भी भुगतना पड़ रहा है। रतन की बस्सी व आसपास स्थित ढाणियों के कई विद्यार्थी बस व अन्य वाहनों से स्कूल जाते हैं। ऐसे में आए दिन स्कूल बस व वाहन के रेत में धंस जाने से विद्यार्थियों को खासी परेशानी होती है। इसके अलावा दुपहिया वाहन चालकों के लिए यहां सफर करना जोखिम से कम नहीं है। दुपहिया वाहन रपट जाते है। जिससे चालक गिरकर घायल हो जाता है।

Jaislamer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

काठोड़ी में खारे पानी की आपूर्ति, ग्रामीणों ने जताया रोष
जैसलमेर . जिले की ग्राम पंचायत काठोड़ी मुख्यालय पर पिछले लम्बे अर्से से खारे पानी की आपूर्ति की जा रही है। इससे ग्रामीणों में रोष है। इसको लेकर मंगलवार को सरपंच मनोहरलाल प्रजापत के नेतृत्व में ग्रामीणों ने जिला कलक्टर के नाम ज्ञापन देकर समस्या समाधान की मांग की। ज्ञापन में उन्होंने बताया कि गांव में सप्लाई किया जा रहा पानी पीने योग्य नहीं है। इस कारण उन्हें 1500-2000 रुपए खर्च कर मीठा पानी मंगवाना पड़ रहा है।
पशुधन पड़ रहा बीमार
ग्रामीणों का कहना है कि काठोड़ी में करीब 550-600 घरों की बस्ती है। यहां हजारों की संख्या में पशुधन है। जो खारा पानी पीकर बीमार पड़ रहा है। ऐसे ही पिछले वर्ष खारा पानी पीने से गांव की कई गायों की अकाल मृत्यु हो गई थी। सरपंच ने बताया कि पूर्व में गांव में मीठे पानी की आपूर्ति करवाई जाती थी, लेकिन अब खारा पानी पीने को मिल रहा है। ग्रामीणों ने यह समस्या कई बार संबंधित जलदाय विभाग के अधिकारियों को बताई, लेकिन वे पानी के टैंकर भेज कर्तव्य की इतिश्री कर दी जाती है। ग्रामीणों ने काठोड़ी में जलापूर्ति देवा से अथवा जैसलमेर शहर से होने वाली सप्लाई लाइन से करवाने की मांग की।

jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned