scriptजहां हिन्द की फौजों ने शौर्य से लिखी अमिट गाथा, वहीं पहुंची स्वर्णिम विजय मशाल | Where the armies of Hind wrote an indelible saga with valor, the golde | Patrika News

जहां हिन्द की फौजों ने शौर्य से लिखी अमिट गाथा, वहीं पहुंची स्वर्णिम विजय मशाल

-ऐतिहासिक जीत के हीरो रहे कुलदीपसिंह चांदपुरी की धर्मपत्नी सुरिंदर कौर चांदपुरी ने ग्रहण की मशाल
- सरहद से सटे रेगिस्तानी जिले में शनिवार को एक और तारीख इतिहास के पन्नों पर दर्ज

जैसलमेर

Published: July 11, 2021 10:44:05 am

जहां हिन्द की फौजों ने शौर्य से लिखी अमिट गाथा, वहीं पहुंची स्वर्णिम विजय मशाल
जहां हिन्द की फौजों ने शौर्य से लिखी अमिट गाथा, वहीं पहुंची स्वर्णिम विजय मशाल

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Group Sites

Top Categories

Trending Topics

Trending Stories

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.