Jaisalmer- जहां ‘जहाज’ सिर्फ चलते थे, कड़े प्रयासों के बाद अब उडऩे लगे... जैसलमेर से जयपुर व दिल्ली की सिमट गई दूरियां

By: jitendra changani

Updated: 30 Oct 2017, 01:08 PM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/6

स्पाइसजेट का 78 सीटर विमान रविवार दोपहर 12 बजे जब एयरपोर्ट के रन-वे पर पहुंचा तो वहां लाउंज में बड़ी तादाद में मौजूद जैसलमेर के विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिनिधियों ने एक दूसरे को बधाई दी और खुशी का इजहार किया। पहली फ्लाइट निर्धारित समय से 25 मिनट पहले ही जयपुर से जैसलमेर पहुंच गई। इसी तरह से 12.55 बजे दिल्ली के लिए विमान ने उड़ान भरी।

जैसलमेर . पश्चिमी सीमा के अंतिम छोर पर बसे जैसलमेर में जहां पहले ‘रेगिस्तान का जहाज’ ही चल सकता था, लेकिन अब हवाई जहाज उडऩे लगा है। ‘पत्रिका’ की ओर से चलाए गए महाअभियान ‘पंख लगे तो मिले परवाज’ के बाद आमजन का जुड़ाव हुआ, कई लोगों ने ज्ञापन दिए, जनप्रतिनिधि आगे आए तथा मुद्दा संसद तक गूंजा। आखिर जैसलमेर को हवाई सेवा से जोडऩे की घोषणा के बाद रविवार को स्थानीय लोगों तथा स्वर्णनगरी को निहारने आने वाले मेहमानों का सपना साकार हो गया। इसे लेकर सोशल मीडिया पर खूब प्रशंसा हुई। कुछ लोगों ने अभियान के लोगो की पेंटिंग बना मुख्यमंत्री को भेंट करने की भी घोषणा की।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned