शिकंजे में फंसाकर पहला नाम बदलने के लिए मजबूर करते है, क्यों : शेखावत

- नाम, जाति व धर्म छिपाकर हिन्दु लड़कियों को बहकाते है, ये कैसा प्रेम है
- परिवारवाद की नीति को करेंगे खत्म
- केन्द्रीय मंत्री शेखावत की पोकरण में पत्रकारों से बातचीत

By: Deepak Vyas

Published: 22 Nov 2020, 06:53 PM IST

पोकरण. केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने कहा कि 'अपना नाम छिपाकर, जाति व धर्म छिपाकर हिन्दु समाज की लड़कियों को बहला फुसलाकर अपने शिकंजे में लाते है। मैं मुख्यमंत्री जी से पूछना चाहता हूं कि वो कैसा प्रेम है। माननीय मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रेम में किसी भी तरह का जिहाद नहीं होता है और जिहाद में किसी भी तरह का प्रेम नहीं होता है। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि वो इस बात का जवाब दें कि ऐसे शिकंजे में फंसी हुई लड़कियों को क्यों अपना पहला नाम बदलने के लिए मजबूर किया जाता है।Ó गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को लव जिहाद पर कानून को असंवैधानिक बताया था। जिसके बाद से प्रदेशभर की राजनीति में उबाल आया हुआ है और नेताओं में बयानी जंग छिड़ी हुई है। केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत शुक्रवार को पोकरण विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर थे। वे देर रात साढ़े 10 बजे पोकरण पहुंचे। यहां उन्होंने पूर्व पार्षद खेताराम माली के निवास पर कार्यकर्ताओं से मुलाकात की तथा भोजन किया। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने मुख्यमंत्री से कई सवाल किए। उन्होंने कहा कि युवा अपना नाम, जाति, धर्म छिपाकर कई लड़कियों को बहला फुसलाकर अपने जाल में फंसा लेते है। इसके बाद पहला नाम बदलने के लिए मजबूर किया जाता है। उन्होंने कहा कि हिन्दु समाज के रीति रिवाज के अनुसार शादी के बाद लड़कियों के पीछे जाति का नाम बदलता है, लेकिन लड़कियों को फंसाकर पहला नाम बदलने के लिए मजबूर किया जाता है। क्यों हमारे समाज की संगीता, गीता को फिरोजाबानो या रईसाबानो बनाने के लिए मजबूर किया जाता है। इसका जवाब पहले मुख्यमंत्री दें, उसके बाद वे लव जिहाद पर कोई टिप्पणी करेंगे।
नियमों को ताक पर रखकर किया सीमांकन व पुनर्गठन
केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने कहा कि कांग्रेस सरकार व पार्टी ने हार को स्वीकार पहले ही कर लिया है। पंचायतों व नगर निगमों में नियमों को ताक पर रखकर तथा सरकारी तंत्र का दुरुपयोग कर वार्डों का सीमांकन किया। तीनों नगर निगमों में तुष्टिकरण की हदों को पार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को हार का भय सता रहा था। इसी कारण नियमों की अनदेखी करते हुए सीमांकन व पुनर्गठन किया गया। उन्होंने कहा कि सरकार सीमाएं बदल सकती है, लेकिन लोगों की मानसिकता बदलना हाथ नहीं है। गत सरपंचों के चुनाव में भाजपा विचारधारा के 80 प्रतिशत सरपंच जीतकर आए है तथा आगामी प्रधान व प्रमुख के चुनाव में भी भाजपा अपना परचम फहराएगी। उन्होंने कहा कि जनता विश्वासघाती सरकार को बर्दास्त नहीं करेगी।
भाजपा की आंधी चल रही है
उन्होंने जैसलमेर में जिला परिषद चुनाव में भाजपा प्रत्याशी का नामांकन खारिज हो जाने तथा कई जगहों पर टिकट नहीं देने के सवाल पर कहा कि तकनीकी कारणों से नामांकन खारिज हो गया था। उन्होंने कहा कि भाजपा बहुमत लाएगी और जिले में कमल खिलेगा। अभी भाजपा की आंधी चल रही है। बिहार चुनाव के बाद अब राजस्थान में पंचायत चुनाव में भी भाजपा परचम फहराएगी।
राकेंगे पाकिस्तान जाने वाला पानी, अन्य नदियों भी होगी स्वच्छ
उन्होंने कहा कि देश के बंटवारे के बाद पाकिस्तान को भू-भाग 20 प्रतिशत मिला, लेकिन पानी का हिस्सा 68 प्रतिशत दिया गया। उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कड़ा रुख अपनाते हुआ पानी व खून एक साथ नहीं बहने की बात कही थी। उसी दिशा में कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अपने हिस्से का पानी पाकिस्तान में नहीं जाए, इसके लिए स्ट्रक्चर तैयार हो रहा है तथा शीघ्र ही उस पानी को रोका जाएगा। उन्होंने नदियों को स्वच्छ करने के सवाल पर कहा कि पहले मिशन मॉड के रूप में पवित्र गंगा नदी को स्वच्छ व साफ किया गया। अब आगामी दिनों में अन्य नदियों को भी साफ व स्वच्छ करने का अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने आमजन से भी अपनी जिम्मेवारी समझते हुए नदियों को साफ व स्वच्छ रखकर पानी को निर्मल बनाने का आह्वान किया। उन्होंने देश में बिगड़ते आर्थिक हालातों के सवाल पर कहा कि कोरोना के बाद पूरे विश्व की आर्थिक स्थिति बिगड़ी है, लेकिन भारत प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ा है तथा अन्य देशों की अपेक्षा भारत की आर्थिक स्थिति काफी हद तक सही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जो कदम उठाए, उससे 2019 के मुकाबले भारत ने ग्रोथ की तथा आत्मनिर्भर भारत बनाने की दिशा में नया कदम बढ़ाया।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned