द्वितीया को हुई पूजा-अर्चना, नहीं पहुंचे श्रद्धालु

रामदेवरा. चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया के मौके पर समाधि समिति की ओर से बाबा रामदेव की समाधि पर विशेष पूजा-अर्चना कर अभिषेक किया गया, लेकिन श्रद्धालुओं के नहीं आने व मंदिर का मुख्य द्वार बंद होने से यहां चहल पहल देखने को नहीं मिली।

रामदेवरा. चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया के मौके पर समाधि समिति की ओर से बाबा रामदेव की समाधि पर विशेष पूजा-अर्चना कर अभिषेक किया गया, लेकिन श्रद्धालुओं के नहीं आने व मंदिर का मुख्य द्वार बंद होने से यहां चहल पहल देखने को नहीं मिली। गौरतलब है कि प्रत्येक माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया के मौके पर समाधि पर पूजा-अर्चना के साथ पंचामृत से अभिषेक किया जाता है। इस मौके पर देश के कोने-कोने से हजारों श्रद्धालु आकर समाधि के दर्शन करते है। इस माह कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते समाधि परिसर को दर्शनों के लिए बंद किया गया है। समाधि समिति के पूजारियों की ओर से अलसुबह चार बजे पंचामृत से अभिषेक कर आरती की गई तथा सुबह आठ बजे स्वर्ण मुकुट चढ़ाया गया। इस मौके पर श्रद्धालुओं की आवक नहीं हुई। जिससे मंदिर सहित आसपास का क्षेत्र सूना नजर आया। इस मौके पर देश के कोने-कोने से हजारों श्रद्धालु आकर समाधि के दर्शन करते है। इस माह कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते समाधि परिसर को दर्शनों के लिए बंद किया गया है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned