धूमधाम से मनाया जा रहा बुढ़वा मंगल का पर्व, हनुमान मंदिरों में उमड़ रही भक्तों की भीड़

धूमधाम से मनाया जा रहा बुढ़वा मंगल का पर्व, हनुमान मंदिरों में उमड़ रही भक्तों की भीड़

Akansha Singh | Updated: 25 Sep 2018, 02:47:34 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बुन्देलखंड में मनाया जाने बाला बुढ़वा मंगल पर्व पर हनुमान जी के मन्दिर को आज विशेष रूप से सजाया गया।

जालौन. बुन्देलखंड में मनाया जाने बाला बुढ़वा मंगल पर्व पर हनुमान जी के मन्दिर को आज विशेष रूप से सजाया गया। हनुमान मन्दिर में सुबह से ही भक्तों की भीड़ लगनी शुरु हो गयी। मन्दिर में हनुमान जी के जयकारों के साथ भक्त भगवान राम के भी जयकारे लगा रहे हैं। बुढ़वा मंगल पर मंदिरों पर होने वाली भीड़ को देखते हुए विशेष इंतजाम किये गये ताकि दर्शनार्थियों को परेशानी का सामना न करना पड़े। साथ ही सुरक्षा को देखते हुये मंदिरों सीसीटीवी कैमरे भी लगाये गये जिससे संदिग्धों पर नजर रखी जा सके।


प्रत्येक वर्ष की भांति इस बार भी बुढ़वा मंगल पर्व को लेकर उत्साह से तैयारियां की गयी थी मंदिरों की साफ-सफाई की गयी साथ ही मन्दिरों को लाईट व झूमर से सजाया गया। इस पर्व पर मंदिरों में भीड़ अत्यधिक होती है जिसके चलते महिला और पुरुष श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए अलग व्यवस्थाएं की गयी हैं। जालौन जनपद के कोंच के प्राचीन दोहर मंदिर के साथ साथ उरई के प्राचीन ठड़ेश्वरी मंदिर में भक्तों की भीड़ सुबह से ही उमड़ने लगी। बुढ़वा मंगल को लेकर धार्मिक आयोजन भी किये जा रहे हैं। साथ ही अखंड रामायण, सुंदरकांड का पाठ भी किया जा रहा है। इसके साथ ही कई स्थानों पर हनुमान चालीसा और हनुमान बाहुक का पाठ किया जा रहा है और भक्तों को प्रसाद के रूप मे लंगर भी बांटा जा रहा है। ठड़ेश्वरी मंदिर के महंत सिद्धन महाराज ने बताया कि आज के दिन जब भगवान राम के समक्ष बैठक हो रही थी तभी हनुमान जी का पूरे शरीर पर सफ़ेद बाल दिखाई दिया सभी लोग उन्हे बूढ़े दिखने लगे और उस दिन भाद्र पक्ष का अंतिम मंगलवार था तभी से यह पर्व मनाया जाने लगा।


वहीं दोहर मंदिर के पुजारी कमलेश दुबे ने बताया कि यहां पर दूर दराज से लोग दर्शन करने आते हैं और उनकी सारी व्यवस्था यहां के लोग करते है। इसके अलावा श्रद्धालुओं का कहना है वह कई वर्षों से आ रहे है और जो भी यहां पर सच्चे मन से जो भी मांगता है उसकी मनोकामना पूरी होती है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned