देर आए दुरुस्त आए की तर्ज पर 8 महीने बाद दर्ज हुआ मुकदमा 

कोतवाली पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर चार लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज की है। 

जालौन। कोतवाली पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर चार लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज की है। घटना करीब आठ माह पूर्व अक्तूबर 2015 की है। किशोरी के पिता का आरोप है कि, पुलिस ने दुष्कर्म की धाराओं में तो रिपोर्ट दर्ज कर ली लेकिन मौत के मामले को संज्ञान में नहीं लिया।  

कोतवाली क्षेत्र के एक मुहल्ला निवासी पीड़ित ने बताया कि उसकी 14 वर्षीय पुत्री के साथ लगभग एक वर्ष पूर्व मुहल्ला दलालनपुरा निवासी चार लोगों ने दुष्कर्म किया था। उसके बाद जब वह गर्भवती हो गई, तो उन्होंने मुहल्ले की ही एक महिला के साथ मिलकर उसकी पुत्री का गर्भपात करा दिया। गर्भपात के समय अधिक रक्त बह जाने से 16 अक्टूबर 2015 को उसकी पुत्री की मृत्यु हो गई।

इसकी शिकायत उसने कोतवाली पुलिस से भी की थी। लेकिन कोतवाली पुलिस ने उसकी बात नहीं सुनी और भगा दिया। फिर उसने कोर्ट में न्याय के लिए गुहार लगाई। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर 8 माह बाद कोतवाली पुलिस द्वारा इस मामले को पंजीकृत किया गया।

पीड़ित पिता के अनुसार पुलिस ने केवल दुष्कर्म की धारा के तहत मुकदमा दर्ज किया है लेकिन लड़की की मौत के मामले को संज्ञान में नहीं लिया गया है। देर आए दुरुस्त आए की तर्ज पर 8 महीने बाद दर्ज हुआ मुकदमा 


आकांक्षा सिंह
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned