खराब प्रदर्शन से सवालों में अटकी सपा, अगले विधानसभा चुनाव में क्या योगी के विजय रथ को रोक पाएगी

खराब प्रदर्शन से सवालों में अटकी सपा, अगले विधानसभा चुनाव में क्या योगी के विजय रथ को रोक पाएगी

Neeraj Patel | Updated: 25 May 2019, 02:38:00 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बसपा के साथ गठबंधन करके सपा का प्रदर्शन काफ़ी ख़राब हो गया और बसपा को फायदा मिला जो शून्य से उठकर 10 पर आ गई।

लखनऊ. लोकसभा के चुनावी नतीजों में ख़राब प्रदर्शन के बाद सपा अब कई सवालों को लेकर परेशान दिख रही है। सपा-बसपा के एक साथ चुनाव लड़ने के बाद भी वह वापसी नहीं कर पाए। 2014 में जब दोनों पार्टियां अलग-अलग चुनाव लड़ी थी, उसमें सपा का प्रदर्शन अच्छा था लेकिन बसपा शून्य पर ही अटक गई थी।

इस बार बसपा के साथ गठबंधन करके सपा का प्रदर्शन काफ़ी ख़राब हो गया और बसपा को फायदा मिला जो शून्य से उठकर 10 पर आ गई। बता दें कि लोकसभा के पिछले 4 चुनावों से समाजवादी पार्टी के ग्राफ में काफ़ी गिरावट आई है। 2004 में सपा 26.74 फ़ीसदी वोट पाई थी वहीं अब 2019 के लोकसभा चुनाव में मात्र 17.96 फ़ीसदी वोटों पर सिमटकर रह गई हैं।

अब सवाल यह उठ रहा है कि क्या आने वाले विधानसभा के चुनाव में सपा बसपा दोनों एक साथ ही चुनाव लड़ेगी या अलग- अलग? और यदि एक साथ लड़ती है, तो मुख्यमंत्री का दावेदार कौन होगा? क्योंकि लोकसभा के इस चुनाव परिणाम को देखकर ऐसा लग रहा है, कि भाजपा का प्रदर्शन अगले विधानसभा चुनाव में भी अच्छा हो सकता है। उस परिस्थिति में यदि सपा- बसपा का गठबंधन नहीं होता है तो योगी के विजय रथ को ये पार्टियां कैसे रोक पाएंगी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned