मुलायम को सपा अध्यक्ष बनाने पर अखिलेश का यू-टर्न, पहली बार दिया बड़ा बयान

कालपी में अखिलेश यादव ने शिवपाल के नई पार्टी बनाने और योगी सरकार पर कसे तीखे तंज...

By: Hariom Dwivedi

Published: 08 May 2017, 05:34 PM IST

जालौन. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कालपी में मुलायम को फिर से पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने पर बड़ा बयान दिया। उन्होंने चुनाव बाद मुलायम को पार्टी की कमान सौंपने वाले बयान पर यू-टर्न लेते हुए कहा, 'मैं कौन होता हूं उन्हें अध्यक्ष बनाने वाला। अभी पार्टी की सदस्यता अभियान चल रहा है और कुछ दिन में मेरी खुद सदस्यता समाप्त हो रही है और नए सदस्य बनने के बाद संवैधानिक तरीके से चुनाव होगा। बता दें कि अखिलेश यादव जालौन के कालपी में एक शादी समारोह में शिरकत करने आये थे। उनके साथ उनकी पत्नी सांसद डिम्पल यादव भी थीं।

गौरतलब है कि सपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव और मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव यूपी चुनाव में हार के बाद अखिलेश को बार-बार उनका वो वादा दिलाते हैं, जिसमें उन्होंने कहा था कि चुनाव के बाद वह खुद नेजाकी को अध्यक्ष पद की कुर्सी सौंप देंगे। 


2017 में नेताजी का कम आशीर्वाद मिला
रविवार को मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाना उनकी पहली और आखिरी गलती थी। इस सवाल पर उन्होंने हंसकर जवाब देते हुए कहा कि 2017 के विधानसभा चुनाव में नेताजी का आशीर्वाद कम मिला, इसलिए चुनाव हार गये, अबउनका आशीर्वाद मिलेगा तो 2019 और 2022 में समाजवादियों का झंडा फिर बुलंद होगा।

अखिलेश बोले- नहीं है सेक्युलर मोर्चे की जानकारी
शिवपाल यादव द्वारा समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के गठन के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं। वहीं, राष्ट्रपति चुनाव पर उन्होंने कहा कि अगर सेक्युलर नेता उतारा जाता है तो जरूर कांग्रेस का समर्थन करेंगे।

'जिन्हें पार्टी से निकाला, वो मेरे भी खास थे'
शिवपाल यादव के 5 समर्थकों को पार्टी से निकाले जाने के सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कजिला कार्यकारणी से रिपोर्ट आने के बाद उन पर कार्यवाही हुई है। अखिलेश यादव ने कहा कि जिनको पार्टी से निकाला गया, वो सभी मेरे भी खास थे।

भाजपा सरकार में गुंडागर्दी चरम पर
सपा अध्यक्ष ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा सरकार में गौरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी हो रही है। रेप की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही है। अखिलेश ने कहा कि यह कैसा दुर्भाग्य है कि जिस दिन निर्भया केस का फैसला आया, उसी दिन में जालौन में गैंगरेप की घटना हुई। उन्होंने कहा कि बीजेपी वालों ने कहा था कि यूपी में गुंडाराज समाप्त कर देंगे। क़ानून-व्यवस्था पटरी पर ला देंगे, लेकिन अभी तक उन्होंने क्या समाजवादियों से बेहतर इन्तजाम किया है? क्या 100 नंबर से अच्छी व्यवस्था लायेंगे? वह पुलिस को कौन सी स्पेशल ट्रेनिंग देंगे। सरकार की परीक्षा है। सहारनपुर में एसपी के घर में घुसकर बीजेपी के विधायक सांसद ने नेम प्लेट तोड़ दी। इनके खिलाफ सरकार ने क्या एक्शन लिया।
 
गौरक्षा के नाम पर हो रही गुंडागर्दी
अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में गौरक्षा के नाम पर दूसरी जाति से अगर कोई शादी कर लेता है उसके नाम पर खूब गुंडागर्दी हो रही है। किसान गाय लेकर जाता है तो उसे मार दिया जाता है। जब सपा की सरकार थी तब गाय के नाम पर खूब हल्ला किया जाता था। केवल यूपी में ही गाय के नाम पर राजनीति की जाती थी लेकिन कभी भी किसी अन्य प्रदेश में यह राजनीति नहीं की गयी। अब सरकार है तो क्या गाय के लिए अभी तक कोई व्यवस्था की है?
BJP
Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned