GST Suvidha Kendra : बिजनेस करना चाहते हैं तो अपने ही शहर में खोलें जीएसटी सुविधा केन्द्र, कमाएं 50 हजार प्रतिमाह

GST Suvidha Kendra : बिजनेस करना चाहते हैं तो अपने ही शहर में खोलें जीएसटी सुविधा केन्द्र, कमाएं 50 हजार प्रतिमाह

Neeraj Patel | Publish: Aug, 08 2019 09:38:57 PM (IST) | Updated: Aug, 08 2019 09:39:41 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

GST Suvidha Kendra : यूपी के बेरोजगार युवा अपने शहर में जीएसटी सुविधा केन्द्र खोलकर अपना बिजनेस शुरू कर 40 से 50 हजार प्रतिमाह कमा सकते हैं।

जालौन. अगर आप बिजनेस करना चाहते हैं तो आप अपने ही शहर में जीएसटी सुविधा केन्द्र (GST Suvidha Kendra) खोलकर छोटा सा बिजनेस शुरू कर सकते हैं। देश के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के सभी शहरों में गुड्स एंड सर्विस टैक्‍स (Goods and Service Tax) लागू होने से अब बिजनेस करना आसान हो गया है। उत्तर प्रदेश में बेरोजगार घूम रहे लोग जीएसटी सुविधा केन्द्र (GST Facilitation Center) खोलकर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। जीएसटी सुविधा केन्द्र खुलने से उत्तर प्रदेश के युवाओं को रोजगार मिलेगा। इसके साथ ही यूपी मेें बरोजगारी में गिरावट भी आएगी।

बता दें कि जीएसटी लागू होने से कारोबारियों को फाइनेंशियल रिपोर्ट फाइल करने में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है कारोबारियों की परेशानियों को देखते हुए उत्तर प्रदेश में कंपनियां मात्र 25 हजार रुपए में जीएसटी सुविधा केंद्र खोल रही हैं। आप भी जीएसटी सुविधा केंद्र (GST Suvidha Kendra) खोलकर 40 से 50 हजार रुपए महीने का कमा सकते हैं।

मात्र 25000 में खोलें जीएसटी सुविधा केंद्र

वैनविक टेक सॉल्यूशंस ऑथोराइज्ड जीएसटी सुविधा (GST Suvidha Kendra) केंद्र खोलने का मौका सिर्फ 25000 में दे रही है। यूपी के पढ़े लिखे बेरोजगार युवा अपने ही शहर में जीएसटी सुविधा केंद्र (GST Facilitation Center) खोल सकते हैं। जीएसटी सुविधा केंद्र पर ट्रेंड एक्सपर्ट्स बिजनेस को समझने में मदद करने के साथ फाइनेंशियल रिपोर्टिंग की जरूरत को पूरा कर सकते हैं। इसके अलावा कम फीस लेकर कारोबारियों का रिटर्न फाइल कर अच्छी खासी कमाई भी कर सकते हैं। जिसके लिए उनको एक आवेदन करना होगा।

आप लोगों के दे सकते हैं ये सुविधाएं

जीएसटी सुविधा केंद्र (GST Suvidha Kendra) खोलकर आप जीएसटी से संबंधित सर्विसेज जैसे जीएसटी नंबर (GST Number) रजिस्ट्रेशन, जीएसटी रिटर्न फाइलिंग, अकाउंटिंग एंड बुक कीपिंग व डिजिटल सिग्नेचर बनवाने का काम शुरू कर सकते हैं। इस केंद्र में इलेक्ट्रिसिटी बिल पेमेंट, पैन कार्ड, डीटीएच रिचार्ज, मोबाइल रिचार्ज करने की भी सुविधा मिलेगी। इसके अलावा इस साल के अंत तक ट्रेन टिक बुकिंग, एयर टिकट बुकिंग, यूटिलिटी बिल पेमेंट, जनरल इंश्योरेंस, आईटीआर फाइलिंग के साथ अन्य फाइनेंशियल सर्विसेज को सुविधा केंद्र से जोड़ा जाएगा।

जानिए कितनी होगी कमाई

जीएसटी सुविधा केंद्र (GST Suvidha Kendra) खोलने वाले को सबसे पहले तीन साल के लिए सिर्फ 25 हजार रुपए निवेश करने होंगे। सुविधा केंद्र शुरू होने के बाद कोई भी व्यक्ति इसमें 30 हजार रुपए मंथली आसानी से कमाई कर सकता है। जीएसटी चालान (GST Challan) बनाने का चार्ज 300 रुपए, न्यू जीएसटी नंबर रजिस्ट्रेशन का चार्ज 750 रुपए और डिजिटल सिग्नेचर का चार्ज 650 रुपए है। इसमें आपको चालान बनवाने पर 40 फीसदी कमीशन मिलता है। इसी तरह न्यू जीएसटी नंबर रजिस्ट्रेशन पर 40 फीसदी और डिजिटल सिग्नेचर पर 30 फीसदी कमीशन मिलेगा। इस तरह से यूपी के बेरोजगार युवा अपनी मेहनत से अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

जीएसटी सुविधा केंद्र के लिए ऐसे करें अप्लाई

जो उम्मीदवार बिजनेस करना चाहते हैं उनको इस वेबसाइट gstsuvidhakendra.org पर जाकर संपर्क कर आवेदन करना होगा। इसके बाद आप अपना जीएसटी सुविधा केंद्र (GST Suvidha Kendra) खुद का बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned