script151 units of blood arranged for the needy of Jalore | पाली जिले की इस अनूठी पहल ने जालोर के जरुरतमंदों के लिए कर दिया 151 यूनिट रक्त का प्रबंध....पढिय़े इस पहल को | Patrika News

पाली जिले की इस अनूठी पहल ने जालोर के जरुरतमंदों के लिए कर दिया 151 यूनिट रक्त का प्रबंध....पढिय़े इस पहल को


चेंडा में 151 यूनिट रक्तदान, जालोर अस्पताल में आएगा काम

जालोर

Updated: April 18, 2022 09:10:26 pm

जालोर. राजेश्वर भगवान आंजणी माता धाम नया चेंडा में को भी रक्तदान की अनूठी मिसाल कायम की गई। सामान्य चिकित्सालय जालोर व शिवम् हॉस्पिटल भाद्राजून के सहयोग से आयोजित रक्तदान शिविर में 151 युवक व युवतियों ने रक्त दान किया। उक्त रक्त सामान्य चिकित्सालय जालोर को दिया गया है, जो ज़रूरत मंद लोगों को मानव सेवा के लिए ब्लड बैंक से उपलब्ध करवाया जाएगा। शिकारपुरा धाम के महंत दयाराम महाराज ने शिविर का निरीक्षण करते हुए कहा कि रक्त दान महादान है। युवाओं को आगे बढकऱ खून की कमी वाले गरीब व असहाय लोगों की जान बचाने के लिए रक्तदान करना चाहिए। कांग्रेस नेता सवाराम पटेल ने बताया कि सामान्य चिकित्सालय जालोर के पीएमओ एसपी शर्मा व डॉक्टर अभिषेक चौधरी के सहयोग से सामान्य चिकित्सालय जालोर की टीम जगदीश विश्नोई सहित छह सदस्य टीम व शिवम् होस्पिटल भाद्राजून के मनोहर चौधरी व किशन पटेल की टीम ने नया चेंडा (पाली) जाकर केम्प लगाया, जिसमें कल 151 रक्त दाताओं ने उत्साह के साथ रक्तदान किया।
 चेंडा में 151 यूनिट रक्तदान, जालोर अस्पताल में आएगा काम
चेंडा में 151 यूनिट रक्तदान, जालोर अस्पताल में आएगा काम
इससे पूर्व भी रक्तदान
मामले मे ंखास बात यह है कि दो दिन पूर्व भी इसी आयोजन के दौरान भी रक्तदान की अनूठी पहल की गई थी। आहोर से कांगे्रस प्रत्याशी रह चुके कांग्रेस के सक्रिय नेता सवाराम पटेल ने बताया कि दो दिन पूर्व रक्तदान के बाद 101 यूनिट रक्तदान भी जालोर के लिए भेजा गया है।
इधर, रानीवाड़ा में स्वामी आत्मानंद सरस्वती महाराज के नाम शिक्षण पुरस्कार प्रारंभ करने की मांग
रानीवाड़ा. राजस्थान समेत पूरे देश में शिक्षा सारथी संत के नाम से विख्यात संत स्वामी आत्मानंद सरस्वती महाराज के नाम शिक्षण पुरस्कार प्रारंभ करने के लिए सोमवार को स्वामी श्री आत्मानंद सेवा संस्थान के कोषाध्यक्ष अमृत पुरोहित ने रानीवाड़ा उपखंड अधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। पुरोहित ने बताया कि स्वामी आत्मानंद सरस्वती महाराज एक ऐसे संत थे जिन्होंने मारवाड़ समेत पूरे राजस्थान में सभी वर्गों के लिए शिक्षा के क्षेत्र में अपना अमूल्य योगदान दिया है। उन्होंने शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए जगह-जगह छात्रावास व विद्यालयों का निर्माण करवाया। उन्होंने अपना पूरा जीवन शिक्षा की अलख जगाने में व्यतीत किया। पुरोहित ने बताया कि संत श्री की प्रेरणा से आज भी उनके हजारों शिष्य राजस्थान समेत पूरे देश में निस्वार्थ भाव से शिक्षा के क्षेत्र में अपना अमूल्य योगदान दे रहे हैं। स्वामी श्री आत्मानंद सेवा संस्थान रानीवाड़ा के प्रधान संरक्षक दंडी स्वामी देवानंद सरस्वती महाराज ने बताया कि स्वामी आत्मानंद सरस्वती महाराज एक ऐसे संत थे, जिनका यह मानना था कि सर्व समाज का प्रत्येक बालक बालिका उच्च शिक्षा ग्रहण करें और शिक्षा से कोई वंचित नहीं रहे इसके लिए उन्होंने अपने पूरे जीवन काल में कार्य किए इसलिए आज उन्हें राजस्थान समेत पूरे देश में शिक्षा सारथी संत के नाम से जाना जाता है। उन्होंने बताया कि संत श्री के द्वारा स्वामी आत्मानंद सेवा संस्थान वात्सल्यधाम की स्थापना की गई इसमें 36 कौम के सैकड़ों बालक बालिकाओं ने निशुल्क अध्ययन कर अपना जीवन संवारा है। वर्तमान में भी सैकड़ों बालक बालिका अध्ययन कर रहे हैं। दंडी स्वामी देवानंद महाराज ने बताया कि आत्मानंद सरस्वती महाराज के नाम शिक्षण पुरस्कार प्रारंभ करने के लिए आहोर विधायक छगन सिंह राजपुरोहित ने विधानसभा में अपनी बात रखी थी, जिसके बाद राजस्थान समेत पूरे देश से 36 कौम के उनके शिष्यों द्वारा यह मांग उठाई जा रही है। उन्होंने बताया कि हमें मुख्यमंत्री से आशा है कि मुख्यमंत्री अति शीघ्र स्वामी आत्मानंद महाराज के नाम से शिक्षण पुरस्कार प्रारंभ करेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीआक्रांताओं द्वारा तोड़े गए मंदिरों के बारे में बात करना बेकार है: सद्गुरुबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिअफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.