मानसून से पहले होने थे 4 करोड़ के काम, देरी से मिले बजट ने अटकाया

मानसून से पहले होने थे 4 करोड़ के काम, देरी से मिले बजट ने अटकाया
54 works done before monsoon, delayed budget passed in Jalore

Dharmendra Ramawat | Updated: 06 Jul 2018, 11:11:26 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

अतिवृष्टि को लेकर सीएम ने की थी जालोर के लिए 4 करोड़ के बजट की घोषणा

जालोर. मुख्यमंत्री की ओर से जालोर नगरपरिषद क्षेत्र में अतिवृष्टि से पहले सड़कों और नालों की मरम्मत समेत विभिन्न ५४ कार्यों के लिए करोड़ों रुपए के बजट की वित्तीय स्वीकृति तो जारी कर दी गई, लेकिन शहर में मानसून की दस्तक के बावजूद नगरपरिषद इसके टेंडर तक नहीं कर पाई है। अधिकारियों का कहना है कि टेंडर प्रक्रिया चल रही और इसी महीने की सात तारीख को टेंडर खोले जाएंगे। जबकि इस बजट की घोषणा को करीब साल भर से ज्यादा समय हो चुका है। वहीं इसकी वित्तीय स्वीकृति शहर में मानसून की दस्तक से कुछ दिन पहले ही जारी की गई है। ऐसे में अधिकारी आनन-फानन में अतिवृष्टि की संभावना से पहले ही इन कार्यों के लिए टेंडर प्रक्रिया में जुटे हुए हैं। अगर यही स्वीकृति कुछ समय पूर्व जारी हुई होती तो इसके टेंडर होने के बाद वर्क ऑर्डर भी जारी हो जाते। अब बारिश के मौसम में इन कार्यों को कैसे पूरा किया जाएगा इसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है।
4.08 करोड़ से होंगे 54 काम
नगरपरिषद क्षेत्रमें कुल 54 अलग-अलग कार्यों के लिए 4.08 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति जारी हुई है।इससे क्षतिग्रस्त सड़कों, नालों, पानी निकासी की व्यवस्था, जरूरत वाले स्थानों पर नई सड़कें व नाले भी बनाए जाएंगे। इसके लिए टेंडर प्रक्रिया चल रही है और आगामी 7 जुलाई को टेंडर खोले जाएंगे।
हर बार बारिश में बिगड़ते हैं हालात
गौरतलब है कि शहर में हर बार मानसून की बारिश के दौरान पानी निकासी के अभाव में सड़कों और नालों की स्थिति काफी बिगड़ जाती है। वहीं कई वार्डों में तो महीनों तक पानी का भराव रहता है। ऐसे में इस बजट का उपयोग बारिश से पहले किया जाता तो आमजन को भी इससे सहुलियत मिलती।
वित्तीय स्वीकृति में देरी से हुआ ऐसा
जिले में बीते तीन साल में दो बार अतिवृष्टि के कारण बाढ़ के हालात पैदा हुए हैं। ऐसे में सीएम की बजट घोषणा में जालोर के लिए इसकी अलग से घोषणा की गई। ताकि इस बार मानसून से पहले ही तैयारी की जा सके, लेकिन बजट की वित्तीय स्वीकृति में देरी के कारण समय नगरपरिषद समय पर टेंडर तक नहीं कर पाई। जिसका खामियाजा शहरवासियों को भुगतना पड़ सकता है। जिले सहित जालोर शहर में भी मानसून दस्तक दे चुका है।ऐसे में ये काम बारिश की सीजन में हो पाएंगे भी या नहीं इस बारे में भी कुछ कहना दीगर होगा।
वित्तीय स्वीकृति मिलते ही किए टेंडर
अतिवृष्टि को लेकर मुख्यमंत्री बजट घोषणा के तहत नगरपरिषद क्षेत्रमें सड़कों व नालों समेत विभिन्न ५४ कार्यों के लिए हाल ही में वित्तीय स्वीकृति जारी हुई है। टेंडर बड़ा है और इसकी प्रक्रिया चल रही है। वैसे बजट स्वीकृत होते ही हमने टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी थी। आगामी ७ जून को टेंडर खुलेंगे। इसके बाद वर्क ऑर्डर जारी किए जाएंगे।
- विनय बोड़ा, एक्सईएन, नगरपरिषद जालोर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned