एएसपी से बोला व्यापारी, वन मंत्री विश्नोई के पुत्र ने कराया अपहरण, मांगी 50 लाख की फिरौती

जालोर: अपहृत युवा व्यापारी ने एएसपी के समक्ष पेश होकर लगाया सनसनीखेज आरोप
- तीन दिन पहले हुआ था अपहरण

By: Suresh Hemnani

Published: 21 Jul 2021, 06:55 AM IST

जालोर। तीन दिन पूर्व चितलवाना के युवा व्यापारी प्रकाश विश्नोई के अपहरण के मामले में नया मोड़ आया है। अपहृत व्यापारी मंगलवार को जालोर पहुंचा और एएसपी अनुकृति उज्जैनिया के समक्ष पेश हुआ। उसने अपहरण की साजिश में वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई के पुत्र डॉ. भूपेंद्र विश्नोई का हाथ बताया। यह भी आरोप लगाया कि मंत्री पुत्र ने 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। व्यापारी के शरीर पर चोटों के निशान हैं। पुलिस ने उसकी मेडिकल जांच कराई है। सांचौर थाना प्रभारी प्रवीणकुमार का कहना है कि प्रथम दृश्या मंत्री पुत्र की संलिप्तता नहीं दिख रही।

अपहरण में कई हिस्ट्रीशीटर शामिल
पीडि़त व्यापारी ने बयान में कहा कि प्रकाश, जगदीश गोदारा व राजूराम, सोहनलाल, दलपतसिंह, मुकेश, रमेश भादू, महेंद्र, भूपेंद्र पूनिया, भजनलाल समेत अन्य आरोपी अपहरण की वारदात में शामिल थे। इस पूरे घटनाक्रम के पीछे मंत्री पुत्र की संलिप्तता थी। बदमाशों में राजूराम बागोड़ा पुलिस थाने का हिस्ट्रीशीटर है और जोधपुर आइजी रेंज का 10 हजारी इनामी भी है। प्रकाश गोदारा व ठाकराराम पुलिस थाना चितलवाना का हिस्ट्रीशीटर है।

हरियाणा ले गए थे, 50 लाख मांगने का आरोप...
पीडि़त प्रकाश का आरोप है कि अपहरण कर आरोपी उसे हरियाणा ले गए। खूब पीटा। जख्मी होने के कारण हरियाणा के एक अस्पताल में ले गए। वहां से मौका पाकर वह फरार हो गया और जैसे-तैसे जालोर पहुंचा। पुलिस के समक्ष दिए बयान में पीडि़त ने यह भी आरोप लगाया कि अपहरण के कुछ घंटे बाद बदमाशों ने फोन पर मंत्री पुत्र डॉ. भूपेंद्र ने बात करवाई। इस पर भूपेंद्र ने इस परेशानी से बचने के लिए 50 लाख रुपए फिरौती देने को कहा।

यह था मामला : शादी में जाते समय किया गया अपहरण
चितलवाना निवासी लादूराम विश्नोई ने 17 जुलाई को सांचौर पुलिस थाने में रिपोर्ट दी कि उसका भाई प्रकाश शादी समारोह के लिए चितलवाना से अपनी गाड़ी से निकला था। हाड़ेचा में दो गाडिय़ों में आए सोहनलाल, गोपीकिशन, भजनलाल समेत अन्य ने उसका अपहरण कर लिया। हालांकि एफआइआर में मंत्री पुत्र का नाम नहीं है लेकिन पीडि़त व्यापारी ने एएसपी के समक्ष मंत्री पुत्र समेत अन्य पर आरोप लगाए हैं।
(पीडि़त के बयानों का वीडियो पत्रिका के पास उपलब्ध है)

पुलिस मान रही संदिग्ध
सांचौर थाना प्रभारी प्रवीकुमार का कहना है कि प्रथम दृष्टया मंत्री पुत्र की संलिप्तता नहीं दिख रही। आरोपी और पीडि़त, दोनों पक्ष चितलवाना के हैं। पीडि़त को सुरक्षा मुहैया कराने को कहा लेकिन उसने परिजनों के साथ जाने की इच्छा जताई।

पीडि़त के बयान दर्ज
पीडि़त मंगलवार को ऑफिस ही आ गया था। बयान लिए हैं। उसने कई आरोप लगाए हैं। तथ्यों की जांच कर उचित कार्रवाई करेंगे। - अनुकृति उज्जैनिया, एएसपी

मेरे विरुद्ध राजनीतिक षड्यंत्र
प्रकाश मेरे ननिहाल पक्ष से है। उसके अपहरण की जानकारी मिली तो मैंने ही पुलिस को सूचित किया था। आरोप निराधार हैं। राजनीतिक षड्यंत्र किया गया है। मामले की निष्पक्ष जांच हो। - डॉ. भूपेन्द्र विश्नोई, मंत्री पुत्र

राजनीतिक साजिश
पुत्र पर राजनीतिक साजिश के तहत आरोप लगाए जा रहे हैं। सीआइ ने भी कह दिया कि पीडि़त ने कोई भी स्टेटमेंट हमारे खिलाफ नहीं दिया है। आरोप निराधार हैं। कॉल डिटेल निकलवाई जाए। कहीं हमारे स्तर की गड़बड़ी है तो मैं इस्तीफा देने को तैयार हूं। - सुखराम विश्नोई, वन एवं पर्यावरण मंत्री

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned