scriptAhor MLA Chhagan Singh Rajpurohit said everything is going wrong, thi | आहोर विधायक छगनसिंह राजपुरोहित बोले सबकुछ गलत हो रहा, ये मौन भविष्य को नष्ट कर देगा | Patrika News

आहोर विधायक छगनसिंह राजपुरोहित बोले सबकुछ गलत हो रहा, ये मौन भविष्य को नष्ट कर देगा

- जोयला डायवर्सन निर्माण के विरोध में किसान महापंचायत की रूपरेखा विधायक छगनसिंह राजपुरोहित ने पेश की

जालोर

Updated: May 07, 2022 08:23:19 pm

जालोर. विधायक छगनसिंह राजपुरोहित ने कहा कि नदियां जीवनदायिनी होती है और हमारी जवाई नदी भी जालोर को पोषित ही करती आई है, लेकिन लगातार उदासीन रुख और नजरअंदाजी से हालात विकट हो रहे हैं। जवाई नदी जालोर जिले के लिए जीवनदायिनी है। लेकिन जोयला डायवर्जन जालोर के भविष्य पर बड़ा संकट है। इसका निर्माण रोकने के लिए 9 मई को आहोर उपखंड कार्यालय के समक्ष किसान महापंचायत का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जोयला डायवर्सन का निर्माण रोकना अनिवार्य है। वरना भविष्य में केवल आहोर क्षेत्र ही नहीं, बल्कि पूरा जवाई प्रवाह और जालोर जिला जल संकट की स्थिति में सूख जाएगा। राजपुरोहित ने कहा कि एक समय था जब पानी की कमी जालोर जिले में नहीं थी, लेकिन स्थानीय लापरवाही और नजरअंदाजी से हालात बिगड़ते चले गए और जालोर के हक पर लगातार डाका मारा गया। उन्होंने कहा कि जोयला डायसर्वन के निर्माण के प्रस्ताव सिलसिलेवार बनते रहे और प्रशासनिक स्तर पर यह रिपोर्ट सरकार को ब्रीफ की गई कि जालोर जिले में पहले ही जल संकट की स्थिति है और इसका निर्माण होने से जालोर जिले के जलस्रोत, कुएं तक सूख जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से इस रिपोर्ट को दरकिनार किया गया और अब विभागीय रिपोर्ट में डायवर्सन से किसी तरह के नुकसान नहीं होने की रिपोर्ट पेश की जा रही है, जो सरासर लगत है। इससे निश्चित तौर पर जल प्रवाह पर असर पड़ेगा और कृषि क्षेत्र को भयंकर नुकसान होगा। उन्होंने आमजन से आह्वान किया कि यह मुद्दा केवल आहोर विधानसभा क्षेत्र का नहीं, बल्कि जिले के भविष्य से जुड़ा मुद्दा है। इसलिए हर वर्ग इस महा पड़ाव का हिस्सा बने।
- जोयला डायवर्सन निर्माण के विरोध में किसान महापंचायत की रूपरेखा विधायक छगनसिंह राजपुरोहित ने पेश की
- जोयला डायवर्सन निर्माण के विरोध में किसान महापंचायत की रूपरेखा विधायक छगनसिंह राजपुरोहित ने पेश की
पूर्वजों ने इसलिए यह क्षेत्र चुना
विधायक छगनसिंह राजपुरोहित ने कहा कोई भी सभ्यता जल प्रवाह के किनारे ही पनपी है। हमारे पूर्वज भी जवाई नदी के प्रवाह के आधार पर ही इसके इर्द गिर्द बसे और यहां पानी की भरमार थी, लेकिन 70 साल में जवाई बांध बनने के बाद से पानी की आवक धीरे धीरे कम और अब लगभग बंद हो चुकी है। ऐसे में अब सिरोही जिले में जोयला पिकअप वियर भविष्य के लिए बड़ा संकट है और इससे कृषि क्षेत्र तबाह हो जाएगा। राजपुरोहित ने कहा कि जवाई बांध के पानी पर पाली जिले के एकाधिकार से जिलेवासी परेशान थे। इसी बीच 20 साल पूर्व पंचदेवल परियोजना की क्रियान्विति होने के बाद भी हालात और भी ज्यादा प्रताडि़त करने वाले बने। क्योंकि 8 गांवों के फायदे के लिए जालोर का हक मारा गया। अब जोयजा डासवर्सन के नाम पर हजारों हैक्टेयर कृषि क्षेत्र को नुकसान पहुंचाने की स्थिति बन रही है।
गुपचुप में जोयला की स्वीकृति
विधायक छगनसिंह राजपुरोहित ने कहा कि जोयला के लिए 2006 में 2 करेाड़, 2007 में 1 करोड़ 63 लाख, 2014 में 5 करोड़ के प्रस्ताव बने, लेकिन अधिकारियों ने जालोर जिले पर संभावित दुष्प्रभाव का हवाला देते हुए इस पर ऑब्जेशन लगाया। लेकिन अब राज्य बज में कुल 50 एनिकट स्वीकृत हुए तो गुपचुप में जोयला को इसमें जोड़ा गया है। इस मामले में मुख्यमंत्री को भी पत्र लिखा गया और पीटिशन भी दायर की गई है। ताकि इसका निर्माण पूरी तरह से रोका जा सके। हमने इस संबंध में कलक्टर, संभागीय आयुक्त और मुख्य सचिव को इस संबंध में अवगत करवाया तो वहां से सकारात्मक आश्वासन मिला, लेकिन किसी तरह की पहल वहां से देखने को नहीं मिली।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.