सियाणा कस्बे में भगवान के जन्मोत्सव पर परियों ने किया मंगल नृत्य

Dharmendra Ramawat

Updated: 07 Feb 2019, 12:17:59 PM (IST)

Jalore, Jalore, Rajasthan, India

सियाणा. जैन समाज आयोजित केसरिया नाथ राजेन्द्रसूरी अंजन श्लाका प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर पांचवे दिन भगवान का जन्मोत्सव कल्याणक मनाया गया। आचार्य नित्य सेन सूरीश्वर, आचार्य जयरत्न सूरीश्वर , आचार्य नरेन्द्रसूरी, आचार्य लेखेन्द्रसूरी की निश्रा रही।
मुनि आनंद विजय महाराज ने बताया कि अल सुबह जन्मोत्सव कल्याणक महोत्सव में राजदरबार सजाया गया। इसमें राजा, रानी, सेवक व भगवान इन्द्र-इन्द्राणी का भी दरबार सज गया। सजे राजदरबार का बखान संगीतकार नरेन्द्र वाणी एंड पार्टी ने पेश कर मंत्रमुग्ध कर दिया। जन्मोत्सव के तहत अप्सराओं ने नृत्य किया। सुगंधित जल का छिड़काव कर अभिषेक किया।विभिन्न झांकियों के दृश्यों ने भी लुभाया। भगवान को स्नान करवाकर रक्षा पोटली बांधने का कार्यक्रम काफी रोचक रहा। दोपहर को मुनि सुवृतस्वामी पंचकल्याणक पूजा, प्रभु की अंगरचना व प्रभु भक्ति कार्यक्रम हुए। प्रदीपसिंह चौहान, भाजपा जिलाध्यक्ष रविन्द्रसिंह बालावत, थानाधिकारी सवाईसिंह, सियाणा चौकी प्रभारी कुयाराम, हैड कांस्टेबल होबाराम, दिनेश पोरवाल, कैलाश कोठारी, प्रकाश भाई, मिठालाल, बबलू भाई, कमलेश भाई, मुकेश पोरवाल, रमेशकुमार, चेतन पोरवाल, ललित भण्डारी, नितेश खीवेसरा, कुंदन गांधी, दिलीप भण्डारी, रमेश सोलंकी, प्रदीप बाफना, शांतिलाल, नैनमल, इन्द्रमल कोठारी, जयंतीलाल गांधी आदि मौजूद रहे।
झांकी ने मन मोहा
काछोला पहाड़ी की तलहटी में सुविधिनाथ जैन मंदिर में मंगलवार रात्रि को रामायण के लक्ष्मण की झांकी ने लुभाया। शरीर के आरपार लगा तीर व जमीन से झुलने के दृश्य ने अभिभूत किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned