फिजां में गूंजे मां श्रीयादे के जयकारे, शोभायात्रा में उमड़ी आस्था

फिजां में गूंजे मां श्रीयादे के जयकारे, शोभायात्रा में उमड़ी आस्था
फिजां में गूंजे मां श्रीयादे के जयकारे, शोभायात्रा में उमड़ी आस्था

Dharmendra Ramawat | Updated: 06 Jun 2019, 11:42:08 AM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

आहोर. मां सरियादेवी के जयकारों से गूंजायमान वातावरण, मंगल गीतों का गान करती महिलाएं, श्रद्धालुओं को आशीर्वाद देते रथों पर विराजित संत, मां सरियादेवी की तस्वीर के समक्ष वंदना में तल्लीन भक्तगण, बैण्ड की मधुर धुनों पर नृत्य करते युवा और श्रद्धालुओं का मन मोहती देवी-देवताओं की झांकियां। कमाबेश ऐसा ही नजारा बुधवार को कस्बे में कुमावत समाज की ओर से मां सरियादेवी मंदिर के वार्षिकोत्सव को लेकर निकाली गई शोभायात्रा के दौरान नजर आया। मंदिर वार्षिकोत्सव में कस्बे समेत आस पास के गांवों से काफी तादाद कुमावत समाज के लोगों ने भाग लिया। कस्बे में सरियादेवी चौक स्थित मां सरियादेवी मंदिर में सवेरे पूजार्चना के बाद थांवला महंत सुखदेवभारती, देसू महंत रतनभारती, कस्बे के वड़वेश्वर महादेव मठ के महंत सुंदरपुरी, सुरेश्वर महादेव मंदिर ऐसराणा पर्वत पांडगरा के महंत पर्बतगिरी, महंत लालभारती मांडवला, कस्बे के महिपालसिंह चम्पावत, विधायक छगनसिंह राजपुरोहित, भाजपा आहोर मंडल अध्यक्ष हकमाराम प्रजापत व व्यापार संघ के अध्यक्ष सूजाराम प्रजापत समेत गणमान्य लोगों की मौजूदगी में शोभायात्रा गाजे-बाजे के साथ मंदिर प्रांगण से रवाना हुई। शोभायात्रा आठ निम्बड़ी की सेरी, पोस्ट ऑफिस की गली, चामुंडा माता मंदिर, मेन रोड, सदर बाजार, पुराना बस स्टैण्ड, हॉस्पिटल रोड, पंचायत समिति, निजी बस स्टैण्ड व चांदरा माता चौक होते हुए पुन: मंदिर प्रांगण पहुंचकर विसर्जित हुई। शोभायात्रा में जहां श्रद्धालु रथ पर विराजित मां सरियादेवी की तस्वीर के समक्ष वंदना कर रहे थे। वहीं युवा बैण्ड की मधुर धुनों पर जयकारे लगाते हुए नृत्य कर रहे थे। इस दौरान पूरा माहौल भक्तिमय बना रहा। शोभायात्रा में टै्रक्टरों पर सजी विभिन्न देवी-देवताओं की सुंदर झांकियां व भजन मंडली आकर्षण का केंद्र रही। शोभायात्रा के बाद मंदिर में महाआरती हुई। श्रद्धालुओं ने धोक लगाकर खुशहाली की कामना की। बादमें महाप्रसादी का आयोजन हुआ।
देर रात तक बही सुर सरिता, बोले चढ़ावें
वार्षिकोत्सव से पूर्व मंगलवार को मंदिर प्रांगण में भक्ति संध्या हुई। जिसमें गायकों ने देर रात तक एक से एक सुंदर भजन पेश कर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया। कार्यक्रम के दौरान मेले को लेकर विभिन्न चढ़ावों की बोलियां बोली गई।
युवाओं ने की शरबत की व्यवस्था
शोभायात्रा के दौरान प्रचण्ड गर्मी को देखते हुए निजी बस स्टैण्ड परिसर में कुमावत समाज के मोहनलाल प्रजापत, कांतिलाल प्रजापत, भंवरलाल प्रजापत, पारस प्रजापत, चेतन प्रजापत व किशोर प्रजापत समेत युवाओं ने मेलार्थियों के लिए मीठे शरबत की व्यवस्था की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned