पग-पग पर पांडाल, सड़क पर सेवा के रसोड़े

रामदेवरा जातरुओं के लिए जगह-जगह लगे भंडारे, चरण धूली से अर्जित कर रहे पुण्य

By: Jitesh kumar Rawal

Updated: 18 Aug 2017, 07:18 PM IST

जालोर. बाबा रामदेव के दर्शन को जातरुओं की रेलमपेल लगी हुई है तो सेवा के भंडारे भी पग-पग पर लग रहे हैं।सड़क किनारे जगह-जगह लगाए रामरसोड़े जातरुओं की सेवा कर रहे हैं। भंडारों में इनके लिए न केवल विश्राम बल्कि जलपान और आवास की सुविधा भी मुहैया कराई जा रही है।जातरुओं की चरण धूली से भी सेवादार पुण्य अर्जित करने में जुटे हुए हैं।कई सेवादार बताते हैं कि वे लम्बे समय से सेवा कार्य में लगे हुए हैं।भादरवे माह में बाबा के जातरुओं का आवागमन शुरू होने के साथ ही वे सेवा कार्य में लग जाते हैं।
झलकती है मारवाड़ की मनुहार
ऐसा भी नहीं है कि भंडारा संचालित है तो जातरू आए और चले गए।मारवाड़ की मान-मनुहार भी देखने को मिलती है।जातरुओं के आने से लेकर जाने तक मनुहार देखने लायक होती है। भंडारे के नजदीक आने वाले सभी जातरुओं को बड़ी मनौव्वल से रुकवाया जाता है।यहां ठहरने तक आदर-सत्कार और प्रस्थान करते समय पाछा आवजो जैसे उद्गार की अपणायत भी।
सेवा, जैसे घर आ गए
भंडारों में सेवा भी ऐसी जैसे जातरू घर आ गए हो। घर जैस सुविधाएं मिलने से जातरुओं को विश्राम के दौरान सहूलियत रहती है। भंडारों में स्नान-ध्यान से लेकर नाश्ता, भोजन, चाय-दूध कॉफी, प्राथमिक उपचार की सुविधा दी जा रही है। भंडारों में समय सीमा की भी कोई पाबंदी नहीं है। किसी भी समय विश्राम किया जा सकता है।
बाबा के रसोड़ों में कीर्तन की रमझट
रामरसोड़ों में दिनभर भजन-कीर्तन की रमझट चलती है। प्रभात एवं संध्या आरती में बाबा के जयकारों के बीच नाच-गान भी रहता है। भंडारे में विश्राम कर रहे श्रद्धालु बाबा के यशोगान करते हैं।कई जगह देर रात तक भजन मंडलियां प्रस्तति दे रही है। शहरी क्षेत्रों के साथ ही गांवों में भी रामरसोड़े खुल चुके हैं। आसपास के लोग स्वस्तर पर ही सेवा देने को तत्पर रहते हैं।
राम रसोड़ों पर एक नजर
- कई जगह सभी सुविधाओं से युक्त भंडारे चल रहे हैं
- कुछ जगह चाय-पानी व अल्प विश्राम ही सुविधा
- कुछ जगह थके-मांदे बुजुर्गों के मालिश की व्यवस्था
- लगभग हर गांव और शहर, भंडारे दर्जनों की तादाद में

Ramdevra Jatru
Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned