मर्डर करने जा रहे थे इससे पहले ही लगी पुलिस को जानकारी और फिर...

Khushal Singh Bhati

Publish: Jun, 19 2019 10:57:49 AM (IST)

Jalore, Jalore, Rajasthan, India

जालोर. पुलिस ने पांच दिन पूर्व सांफाड़ा रोड पर एक व्यक्ति पर जानलेवा हमला करने और लूट की घटना को अंजाम देने वाले एक शातिर गिरोह को दबोचा हैं। गिरफ्तार आरोपी अंतर्राज्यीय गिरोह से जुड़े हैं और इन आरोपियों से कई अन्य राज भी खुलने की संभावना है। मामले में 14 जून को सांफाड़ा रोड पर एक व्यक्ति पर किए गए जानलेवा हमले एवं लूट की घटना के बाद सीआई बाघसिंह के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। टीम ने विभिन्न स्तर पर पड़ताल करने के बाद दो आरोपियों मुकेश कुमार पुत्र वगताराम सीरवी निवासी किशनपुरा पुलिस थाना रानी जिला पाली और नरेश गर्ग उर्फ नेणाराम पुत्र लाखाराम उर्फ मोहनलाल गर्ग निवासी मोरसीम पुलिस थाना बागोड़ा को गिरफ्तार कर घटना के खुलासे सहित हथियार तस्करी, एटीएम लूट व वाहन चोरी की दर्जनभर वारदातों का खुलासा किया। पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान लेटा के निकट से मुकेश को वाहन सहित गिरफ्तार किया। उससे पूछताछ के बाद आरोपी नरेश कुमार को सांफाड़ा तिराहे से गिरफ्तार किया। आरोपी पुलिस की मुखबिरी का शक होने पर उसकी हत्या करने के लिए मोरसीम जा रहे थे। पुलिस ने आरोपियोंं को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें 21 जून तक रिमांड पर सौंपा गया।
यह था मामला
14 जून को थाना कोतवाली पर प्रार्थी निशार खां पुत्र उस्मान खां मुसलमान निवासी कोलर ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि वह बोलेरो गाड़ी लेकर कोलर जा रहा था। इस बीच रास्ते में केशवना रोड पर एक बिना नम्बरी बोलेरो केम्पर गाड़ी ने उसकी गाड़ी को टक्कर मार कर गाड़ी को रुकवाया। प्रार्थी के अनुसार इस घटनाक्रम के दौरान एक व्यक्ति नें फायर कर उससे रुपए लूट लिए। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद एसपी केशरसिंह के निर्देशानुसार सीआई बाघसिंह, एसआई भवानीसिंह, हैड कांस्टेबल बाबूलाल समेत अन्य स्टाफ के साथ पुलिस टीम का गठन किया गया।
ऐसे आए गिरफ्त में
घटनाक्रम के बाद पुलिस ने एक बोलेरो केम्पर वाहन से मुकेश कुमार पुत्र वगताराम सीरवी निवासी किशनपुरा, पुलिस थाना रानी जिला पाली को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से एक पिस्टल व 3 राउंड बरामद किए। मुकेश कुमार से पूछताछ कर उसकी सूचना के आधार पर नरेश गर्ग उर्फ नेणाराम पुत्र लाखाराम उर्फ मोहनलाल गर्ग निवासी मोरसीम को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से एक पिस्टल व 3 राउंड बरामद किए और पूछताछ के बाद मामले का खुलासा हुआ। इसके अलावा दो चोरी की बोलेरो कैंपर भी बरामद की गई।
दोनों आरोपी शातिर बदमाश
आरोपी मुकेश कुमार चाकूबाजी के प्रकरण में जेल जा चुका है। जेल से छूटने के बाद सहयोगी ओमकारसिंह के माध्यम से अवैध हथियार के धंधे में लिप्त हो गया। अवैध हथियार प्रकरण में भी जेल जा चुका है और जेल से बाहर आकर ओमकारसिंह के माध्यम से ही नरेश गर्ग के संपर्क में आया व वाहन चोरी कर एटीएम लूटने की वारदातों को अंजाम दिया। इसी तरह नरेश कुमार ट्रेक्टर चोरी के मामले में जेल जाकर भागीरथ माली के सम्पर्क में आया तथा भागीरथ माली के साथ पाली, बाड़मेर, डीसा आदि स्थानों से वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद जेल में अरविन्द सिंह बीका के संपर्क में आया व डीसा जेल तोड़कर केरल में लूट की वारदात के प्रयास में पकड़ा गया। जेल से मुकेश कुमार के संपर्क में आया तथा मुकेश कुमार के साथ वाहन चोरी, एटीएम लूट की वारदातों को अंजाम देना शुरू किया। अपने ही गांव के एक व्यक्ति पर पुलिस की मुखबिरी करने का शक होने पर उसकी हत्या करने का प्लान बनाया, परन्तु पुलिस द्वारा समय रहते गिरफ्तार किया गया।
देशभर में दिया वारदातों को अंजाम
आरोपियों ने अहमदाबाद से इको गाड़ी, पनवेल, मुम्बई से तीन बोलेरो केम्पर, पनवेल (मुम्बई) से एक होण्डा सिटी, डीसा, गुजरात से एक इको गाड़ी, सिरोही से एक बोलेरो केम्पर चुराई
एटीएम लूट में भी आरोपी
रेवदर(सिरोही) से एटीएम लूटते समय एटीएम में आग लगना, वापी व सिल्वासा के बीच दो एटीएम तोडऩा, पालनपुर से हिम्मतनगर के बीच एटीएम तोड़कर बाहर निकालना व गाड़ी में नहीं आने से छोड़कर भाग जाने की वारदातों को इन्हीं आरोपियों ने अंजाम दिया। इसी तरह आरोपियों के अवैध हथियार तस्करी के प्रकरण भी भूमिका है। आरोपियों ने मध्यप्रदेश से हथियार खरीद कर लाना और एक पिस्टल का सिरोही में बेचान कबूल किया है। इधर, गठित दल की ओर से इस शातिर गिरोह को पकडऩे के बाद पुलिस अधीक्षक द्वारा मुख्यालय स्तर पर इस टीम को सम्मानित करने के लिए अनुशंषा की जाएगी।
इनका कहना
वाहन चोरी, एटीएम लूट और अवैध हथियारों समेत विभिन्न मामलों में वांछित आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। गंभीर मामले में वांछित आरोपियों से कई महत्वपूर्ण जानकारी मिलने की संभावना है।
- केशरसिंह शेखावत, एसपी, जालोर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned