लॉक डाउन में ट्रेफिक पर बे्रक, गेहूं लेकर पहुंचे चालकों के सामने भी गहराया संकट

पंजाब के अमृतसर से जालोर पहुंचे गेहूं से भरे ट्रक

जालोर. लॉक डाउन के हालातों के बीच अमृतसर और हनुमानगढ़ से करीब 10 ट्रक अनाज लेकर पहुंचे ट्रक चालक खुद परेशानी में घिर गए हैं। इन ट्रक चालकों को रेलवे क्रॉसिंग के पास स्टेट वेयर हाउस पर रोका गया है। यही इनकी अनलोडिंग होनी है, लेकिन लॉक डाउन के हालातों के बीच इन ट्रक चालकों के सामने अनेक परेशानियां खड़ी हो गई है। ट्रक चालक गुरविंदर का कहना था कि खाने, पीने की वस्तुएं सजग उपलब्ध नहीं हो रही है। दुकानें और प्रतिष्ठान बंद होने से पीने के लिए पानी तक बहुत मुश्किल से मिल रहा है। हालांकि वे इमरजेंंसी हालातों के चलते दाल, आटा व मिर्च मसाले साथ रखते है, लेकिन पानी के बिना बड़ी परेशानी होती है। उन्होंने बताया कि 10 के लगभग गेहूं से भरे हुए हैं और स्टेट वेयर हाउस के बाहर ही खड़े हैं। उनका कहना था कि प्रशासन को पेयजल समेत भोजन की व्यवस्था करनी चाहिए ताकि परेशानी नहीं हो।
इसलिए परेशानी
हालांकि लंबे रूट में चलने वाले ट्रक चालक जरुरी वस्तुओं का स्टॉक अपने पास जरुर रखते हैं, लेकिन कई ट्रक चालक ऐसे भी है, जो होटलों और ढाबों पर ही खाना खाते हैं। वर्तमान हालातों में इन ट्रक चालकों के लिए परेशानी भरे हैं।नहीं मिल रहा खानालॉक डाउन में आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रखने के निर्देश हैं, जिसमें किराणा, दूध, मेडिकल सुविधाएं शामिल है। दूसरी तरफ शहर की बात करें तो होटलें पूरी तरह से बंद हैं। जिसके चलते बाहरी व्यक्ति चाहकर भी भोजन का प्रबंध नहीं कर सकता। दूसरी तरफ लॉक डाउन के चलते शहर के भीतर प्रवेश करना भी एक बड़ी चुनौती ही है। क्योंकि जालोर जिले की ही नहीं जालोर शहर ही सीमाएं भी बंद कर दी गई है।

khushal bhati Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned