बैंक परिसर में ऐसे रखते हैं लोगों पर नजर, और उड़ा देते हैं नकदी

बैंक परिसर में ऐसे रखते हैं लोगों पर नजर, और उड़ा देते हैं नकदी
बैंक परिसर में ऐसे रखते हैं लोगों पर नजर, और उड़ा देते हैं नकदी

Dharmendra Ramawat | Publish: Jul, 03 2019 10:11:07 AM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

तुलसाराम माली
भीनमाल. शहर में रोजाना करोड़ों का लेनदेन होने वाली बैंकों में सुरक्षा व्यवस्था भगवान भरोसे है। बैंक राष्ट्रीयकृत होने से यहां पर रोजाना करोड़ों का लेनदेन होता है, लेकिन शातिर बैंक परिसर में ही चोरी व बैगकतरी वारदात को अंजाम देते है। ऐसे में बैंक की सुरक्षा पर सवालिया निशान लग रहा है। हैरानी की बात तो यह है कि शातिर बैंक के कैश काउंटर के अन्दर से सोमवार को रुपए से भरा बैग बेखौफ पार कर गए। इतना ही नहीं यहां पर पिछले दो माह में तीन वारदातें हो चुकी है, लेकिन बैंक प्रशासन वारदातों को लगाम लगाने के लिए गंभीर नजर नहीं आ रहा है। इसके अलावा पुलिस भी इन संगठित गिरोह तक नहीं पहुंच पा रही है। बैंकों में ग्राहकों व किसानों के साथ आए दिन घटनाएं होती है। बैंक में सोमवार व शुक्रवार को अधिक भीड़भाड़ रहती है। बैंक में सोमवार को 14.35 लाख रुपए का बैग उड़ाया, तो 22 जून को सेवड़ी निवासी सोमतसिंह सोलंकी के बैग के काटकर लगाकर 55 हजार उड़ाए। 20-25 दिन पूर्व फागोतरा निवासी एक दुकानदार के इसी बैंक के एटीएम से बैग काटकर करीब एक लाख रुपए की राशि उड़ाई गई। जिसकी किसी को भनक तक नहीं लगी।
एक बार बाहर निकाला, लेकिन मौका मिलते ही मंसूबे किए पूरे
शहर के एसबीआई एडीबी बैंक में सोमवार को हुई वारदात बैंक के सीसीटीवी कैमरे में कैद है। शातिर बैंक परिसर बैंक के बाहर से बड़ी रकम लेकर आने वाले लोगों पर निगरानी रखते है। उसके बाद किशोर को ईशारा भी करते है। सोमवार को हुई वारदात में एक बार बैंक कर्मचारी ने शातिर को डाटकर भगा दिया था, लेकिन मौका मिलते ही उसने 14.35 लाख की राशि से भरा बैग उड़ा दिया।
बैंक में नहीं है गार्ड
शहर के एसबीआई एडीबी व पीएनबी बैंंक अंबेड़कर सर्कल व्यस्तम चौराहे पर है। यहां से शातिर वारदात को अंजाम देकर महफूज जगह पर शीघ्र खिसक सकते है। यहां से गुजरात व जालोर-जोधपुर के लिए वाहन उपलब्ध हो जाते है। इसके अलावा पास में रेलवे स्टेशन है। इसके अलावा इन दोनों बैंकों में गार्ड नहीं है। ऐसे में यहां पहुंचने वाले ग्राहकों की राशि लेकर बैंक परिसर से ही गायब हो रही है। गार्ड के अभाव में शातिर बिना रोकटोक से बैंक परिसर सहजता से पहुंच जाते है एवं वारदात कर देते है।
शातिरों का संगठित गिरोह सक्रिय
बैंकों में जेबकतरी व चोरी की वारदातों को लेकर संगठित गिरोह सक्रिय है। शहर में पिछले दो साल में गिरोह में दर्जनभर वारदात को अंजाम दे चुका है, लेकिन पुलिस के हाथ अभी भी खाली है। सोमवार को बैंक में हुर्ई वारदात में एक किशोर बैंक के अन्दर घुसकर कैश काउंटर में रखा बैग उड़ा दिया और बाहर पहुंचते ही उसके गिरोह के सदस्य पहुंच गए। इसके बाद फरार हो गए। इसके अलावा कई बार शातिर पहचान छुपाने के लिए पहनाना भी बदल देते है। कभी टोपी, तो कभी ऐेनक पहनते है। इसके अलावा पहनने का शर्ट भी बदलते है। जिससे आम लोग उन्हें संदिग्ध दृष्टिकोण से नहीं देख सकते है।
वारदातों से सकते में लोग
बैंक में आए दिन चोरी व बैग काटने की घटनाएं से व्यापारी व ग्राहक सकते में है। इन लोगों को लेनदेन के लिहाज से रोजाना बड़ी जाना पड़ता है। ऐसे में उन्हें बैंकों में ऐसी घटनाओं को लेकर भय व्याप्त है।
आरोपियों का नहीं लगा सुराग
भीनमाल. शहर के स्टेशन रोड एसबीआई एडीबी शाखा में सोमवार को दिनदहाड़े बैंक से 14.35 लाख रुपए से भरा बैग उड़ाने के मामले में शातिरों को दूसरे दिन भी सुराग नहीं लगा। पुलिस ने शातिरों तक पहुंचने के लिए टीम गठित कर गुजरात भेजी है। इसके अलावा शहर में दिनभर विभिन्न फुटेज जांच की। गौरतलब है कि फागोतरा गांव निवासी हाल राजकीय चिकित्साल रोड भगवती खाद बीज भंडार के मुनीम राजेन्द्रसिंह पुत्र शंभुसिंह राजपूत सोमवार दोपहर 12 बजे एसबीआर्ई एडीबी शाखा भीनमाल में पेट्रोल पंप व खादबीज व्यापारी सवाराम माली के 14.35 हजार रुपए बैंक में जमा करवाने गया था। उस दौरान शातिरों ने काउंटर से बैग पार कर दिया।
प्रयास कर रहे है
बैंक से 14.35 लाख रुपए से भरा बैग उड़ाने की घटना शातिरो बैंक व शहर के अन्य स्थानों से फुटेज भी जुटाएं है। पुलिस टीम गठित कर गुजरात भेजी है। इसके अलावा संदिग्धों से भी पूछताछ की है। ऐसी वारदातों में संगठित गिरोह की भूमिका हो सकती है। पुलिस सभी पहलुओं के आधार पर जांच कर आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास कर रही है। इसके अलावा पूर्र्व में भी बैग काटने की दो घटनाएं हुई है। बैंक प्रशासन को बार-बार सतर्क रहने के निर्देश देते है।
- देवेन्द्रसिंह कच्छवाह, पुलिस निरीक्षक-भीनमाल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned