अलमारी का ताला तोडक़र प्रश्न पत्र निकाले, एक घंटा देरी से हुई परीक्षा

अलमारी का ताला तोडक़र प्रश्न पत्र निकाले, एक घंटा देरी से हुई परीक्षा

Jaitaram Singh Bishnoi | Publish: Apr, 17 2018 11:35:31 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India


- लापरवाही से हुई देरी से हुई परेशानी

चितलवाना. राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खिरोड़ी में वार्षिक परीक्षा में पीईईओ के नदारद रहने पर वीक्षक व परीक्षार्थी करीब एक घंटे तक पेपर बाहर निकालने के लिए इंतजार करते रहे।लेकिन पीईईओ के नहीं आने पर प्रश्न पत्र रखी हुई अलमारी का लॉक तोडक़र प्रश्न पत्र बाहर निकालकर परीक्षा सम्पन्न करवाई गई।
जानकारी के अनुसार राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खिरोड़ी की प्रधानाचार्या पदमा कौशिक जिला समान परीक्षा के पेपर तिजोरी में बंद कर दो दिन के अवकाश पर चली गई है। इतना ही नहीं, जिस अलमारी में चाबी रखी है, वो चाबी भी अपने साथ ले गई। सोमवार को कक्षा 9वीं व 11वीं की हिन्दी की परीक्षा थी। पेपर का लिफाफा साढ़े सात बजे खुलने के समय होने के बाद भी प्रधानाचार्या नहीं आने पर परीक्षा प्रभारी की ओर से फोन से सम्पर्क करने की कोशिश की गई। लेकिन कोई जवाब नहीं आने के बाद परीक्षा प्रभारी ने जिला शिक्षा अधिकारी से दूरभाष पर सम्पर्क किया। जिला शिक्षा अधिकारी के निर्देशन पर साढ़े आठ बजे वीक्षकों की कमेटी गठित कर तिजोरी का लॉक तोडक़र पेपर बाहर निकाले गए। उसके बाद परीक्षा शुरू करवाई गई।
न चार्ज दिया, न चाबी
राउमावि खिरोड़ी की पीईईओ पदमा कौशिक की ओर से दो दिन अवकाश पर होने के बावजूद सोमवार को नहीं आने के बाद भी शिक्षकों को न तो कोई चार्ज दिया गया और न ही तिजोरी की चाबी दी गई। ऐसे में प्रधानाचार्या की अनुपस्थिति में परीक्षा सम्पन्न करवाने को लेकर वीक्षकों व परीक्षार्थियों को करीब एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा।
निजी विद्यालय को भी करना पड़ इंतजार
राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में खिरोड़ी में संचालित होने वाली गायत्री विद्या मंदिर माध्यमिक विद्यालय के कक्षा 9वीं के हिन्दी का पेपर भी इसी सरकारी विद्यालय की अलमारी में होने से उस स्कूल के संचालक को भी परीक्षा के पेपर के लिए इंतजार करना पड़ा।
पूर्व में भी विरोध
राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खिरोड़ी की प्रधानाचार्या पदमा कौशिक की ओर से मनमर्जी से स्कूल में आने, बिना अवकाश लिए छुट्टी पर जाने, दुबारा स्कूल में आकर हाजरी रजिस्टर में हस्ताक्षर करने को लेकर पूर्व में भी कई बार अभिभावकों की ओर से धरना प्रदर्शन किया जा चुका है। ग्रामीणों ने जिला कलक्टर, एसडीएम, तहसीलदार सहित शिक्षा विभाग के अधिकारियों को अवगत करवाया गया। जिला शिक्षा अधिकारी ने कई बार हाजिरी रजिस्टर में खाली पर लाइन खिंचने के बाद भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं होने से प्रधानाचार्या स्कूल का संचालन अपनी मनमर्जी से चलाती है।
तीन माह से नहीं बनाया वेतन
ग्राम पंचायत आकोली के पीईईओ के मनमर्जी के चलते आकोली पंचायत के राजकीय प्राथमिक विद्यालय आलो की ढाणी तैतरोल, राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय देशी कलबियों का गोलिया आकोली, राप्रावि सरली धोरा आकोली में शिक्षकों के वेतन पिछले तीन माह से नहीं बनाया गया है।

इनका कहना...
&स्कूल की प्रधानाचार्या पेपर रखे अलमारी की चाबी अपने साथ लेकर चली गई थी। ऐसे में कमेटी बनाकर साढ़े आठ बजे अलमारी का लॉक तोडक़र पेपर निकलवाए और परीक्षा सम्पन्न करवाई।
-जगदीश विश्नोई,
परीक्षा प्रभारी खिरोड़ी
&हमारी स्कूल के वार्षिक परीक्षा के पेपर राउमावि की अलमारी में रखे थे। सोमवार को नियत समय से एक घंटे देरी से अलमारी का ताला तोड़क़र प्रश्न पत्र बाहर निकालकर हमें वितरित किए गए। उसके बाद परीक्षा करवाई।
-मिश्रीमल पुरोहित, प्रधानाध्यापक गायत्री विद्या मंदिर खिरोड़ी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned