अफीम तस्करी के मामले में आरोपी को 12 साल का कठोर कारावास

विशिष्ठ न्यायाधीश एनडीपीएस मनीष कुमार वैष्णव ने 5 साल पुराने अफीम तस्करी के मामले में एक आरोपी को 12 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई। साथ ही साथ एक लाख रुपए के अर्थदण्ड से दण्डित किया।

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Updated: 13 Jan 2021, 09:52 AM IST

भीनमाल. विशिष्ठ न्यायाधीश एनडीपीएस मनीष कुमार वैष्णव ने 5 साल पुराने अफीम तस्करी के मामले में एक आरोपी को 12 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई। साथ ही साथ एक लाख रुपए के अर्थदण्ड से दण्डित किया। अदम अदायगी के रूप में 10 माह के कठोर कारावास भुगतना होगा। न्यायालय ने रानीवाड़ा के करड़ा पुलिस थाना क्षेत्र के सेवाड़ा गांव निवासी वचनाराम पुत्र धुखाराम पुरोहित को 12 साल के कठोर कारावास व एक लाख रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किया। प्रकरण में दो अन्य आरोपी अभी विचाराधीन हंै। प्रकरण में सरकार की ओर से पैरवी विशिष्ठ लोक अभियोजक भोपालसिंह राठौड़ ने की।
यह था मामला
विशिष्ट लोग अभियोजक भोपालसिंह राठौड़ ने बताया कि 15 जुलाई 2015 को रानीवाड़ा के तत्कालीन थानाधिकारी हरीश राठौड़ ने मय जाब्ता कस्बे के सांचौर बाइपास पर नाकाबंदी की चैकिंग के दौरान सेवाड़ा निवासी वचनाराम पुत्र धुखाराम पुरोहित के बैग की तलाशी लेने पर बैग से 10 किलो अफीम का दूध बरामद किया। पुलिस ने आरोपी को गिर?तार कर एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। जांच के बाद पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध विशिष्ठ न्यायालय एनडीपीएस मामला भीनमाल में धारा 8/18 एनडीपीएस एक्ट में आरोप पत्र पेश किया।
इधर, प्रेमविवाह की पंचायती पड़ी भारी, 18 पंचों के खिलाफ मामला दर्ज
भीनमाल. गजीपुरा गांव में प्रेमविवाह से नाराज समाज के पंच-पटेलों ने युवक के परिजनों पर 20 लाख का जुर्माना लगाया। यह जुर्माना नहीं भरने पर समाज से बहिष्कृत करने की धमकी दी। इस संबंध में पुलिस ने 18 पंचों के मामला दर्ज कर जांच शुरू की। पुलिस निरीक्षक दुलीचंद गुर्जर ने बताया कि गजीपुरा निवासी बगदाराम पुत्र नेथीराम देवासी ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसने पाली जिले में समाज की ही युवती से प्रेमविवाह किया है। इससे समाज के कई लोग खफा हुए। लोगों ने पंचायती बिठाकर उस पर 20 लाख रुपए जुर्माना भरने का दबाव बनाया। नहीं देने पर उसे समाज से बहिष्कृत करने की धमकी दी। युवक की रिपोर्ट पर पुलिस ने दांतलावास निवासी कालाराम पुत्र समरथाराम देवासी, जोगाराम, जीवाराम गोलिया, उदाराम गोलिया, उदाराम कारलू, रूपाराम पहाडपुरा, नोनजी पहाड़पुरा, धुखाराम पावली, सादलाराम पावली, पांचाराम मणधर, रामाराम गजीपुरा, तलसाराम गजीपुरा, लच्छाराम गजीपुरा, करताराम सावीदर, समेलाराम चितरोड़ी, सालूराम राजपुरा, रायकाराम गजीपुरा व खंगाराम गजीपुरा के खिलाफ मामला दर्ज किया।

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned