इस कदर बदहाल हो गई है इन गांवों में सड़क

इस कदर बदहाल हो गई है इन गांवों में सड़क
इस कदर बदहाल हो गई है इन गांवों में सड़क

Dharmendra Ramawat | Publish: Jul, 02 2019 10:37:37 AM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

भीनमाल. भीनमाल-मीरपुरा सड़क पिछले काफी साल सेे बदहाल है। सड़क की हालत यह है कि सड़क पर वाहन तो पैदल चलना भी मुश्किल है। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत 12 साल पहले सड़क का निर्माण हुआ था, लेकिन उसके बाद नवीनीकरण नहीं होने से सड़क पूरी तरह से बिखर गई है। सड़क से डामर का तो नामोनिशान मिट चुका है। इसके अलावा कंकरीट व पत्थर भी बाहर निकल गए है। सड़क के कदम-कदम पर एक-एक फीट के गडढे पड़े हुए है। ऐसे में ग्रामीणों को आवाजाही में काफी परेेशानी झेलनी पड़ रही है।
दुपहिया व लग्जरी वाहन चालकों के लिए इस सड़क पर गुजरना काफी मुश्किल हो गया है। खासकर 2017 की बाढ़ के बाद तो यह सड़क जगह-जगह से टूट चुकी है। मीरपुरा से भीनमाल 6.7 किलोमीटर सड़क बदहाल बनी हुई है। यह सड़क पिछलेे दो साल सेे नोन पेंचेबल श्रेणी में है। यहां से रोजाना दर्जनों की संख्या वाहन गुजरते है। बदहाल सड़क की वजह सेे आए दिन यहां पर दुर्घटनाएं होती है। दुपहिया वाहन चालक रात के समय संतुलन खोकर दुर्घटना के शिकार हो रहे है। मीरपुरा गांव में जीवदया गोशाला भी संचालित हो रहा है। गोशाला के लिए गुजरने वाले चारे के वाहन भी पलटने की आशंका रहती है।
ग्रामीणों का कहना है कि बदहाल सड़क की वजह से आवश्यकता होने पर वाहन चालक मनमाना किराया वसूलते है। ग्रामीणों के सफर तय करने में दुगुना समय लगता है। ग्रामीणों ने कई बार जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों को अवगत भी करवाया, लेकिन समस्या का समाधान
नहीं हो रहा है।
वीराना रेवतड़ा मुख्य पर गड्ढा बना परेशानी का सबब
सायला. मुख्य मार्ग पर बने गडढे वाहन चालकों के लिए हादसे का कारण बन रहे हैं, लेकिन विभागीय अधिकारी इस तरफ ध्यान नहीं दे रहे। वीराना निवासी चतरसिंह राजपुरोहित ने बताया कि केबलिंग कार्य के लिए यहां गडढा खुदा हुआ है, जिससे वाहन चालक परेशान है। इसी गडढे में एक गाय गिरने से गाय की मौत हो गई। वहीं गडढे के कारण कई बार हादसे हो रहे है, लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं जा पा रहा है।
आये दिन हो रहे हादसे
मुख्य सड़क मार्गों पर कई बार हादसे हो रहे है। लेकिन प्रशासन की ओर से इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सायला में भी ऐसी प्रकार कुछ दिन पूर्व ही नए बस स्टैंड पर एक व्यक्ति के नाले में गिरने के कारण मौत हुई थी, लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं जा
रहा है।
गडढों में तब्दील हो चुकी है सड़क
शहर को मीरपुरा गांव से जोडऩे वाली 6 .5 किलोमीटर सड़क गडढों में तब्दील हो चुकी है। कदम-कदम पर गडढें पड़ गए है। रात के समय दुपहिया वाहन चालकों को दुर्घटना का भय सताता है। यहां पर आए दिन दुर्घटनाएं भी होती है।
- कमलेश माली, ग्रामीण
पूरी तरह उखड़ गई है सड़क
भीनमाल-मीरपुरा सड़क पूरी तरह से उखड़ गई है। सड़क पर डामर का नामोनिशान मिट चुका है। कंकरीट व पत्थर बाहर निकल रहे है। इस सड़क पर पैदल चलना मुश्किल हो गया है।
- गोपाल स्वामी, मीरपुरा
नवीनीकरण के लिए प्रस्ताव भेजा हुआ है...
भीनमाल-मिरपुरा ग्रामीण सड़क पीएमजीएसवाई के तहत बनी सड़क अब नोन पेचेबल श्रेणी में है। सड़क के नवीनीकरण के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजा हुआ है।
- राजुराम, अधिशाषी अभियंता, पीएमजीएसआई-भीनमाल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned