हाइवे पर गड्ढों की भरमार, हादसे का इंतजार कर रहा विभाग

हाइवे पर गड्ढों की भरमार, हादसे का इंतजार कर रहा विभाग
हाइवे पर गड्ढों की भरमार, हादसे का इंतजार कर रहा विभाग

Dharmendra Ramawat | Updated: 13 Oct 2018, 10:58:41 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

परेशानी: पेचवर्क की औपचारिकता कर भूला विभाग

सांचौर. क्षेत्र से गुजरने वाले नेशनल हाइवे पर पड़े गड्ढे हर रोज हादसे की वजह बन रहे हैं। हाइवे अथॉरिटी व प्रशासन को भी इसकी जानकारी होने के बावजूद वे इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। जिसका खामियाजा हाइवे से गुजरने वाले वाहन चालकों को उठाना पड़ रहा है।विभाग की ओर से महीने भर पहले ही करवाया गया पेचवर्क भी जगह-जगह से उखड़ गया है। ऐसे में हाइवे पर बड़े-बड़े गड्ढे पड़ जाने से रात के समय गुजरने वाले दुपहिया वाहनचालक उसमें गिर कर हर रोज चोटिल हो रहे हैं। वहीं लम्बी दूरी के लिए चलने वाले बड़े वाहन भी हादसे का शिकार हो रहे हैं। खास बात तो यह है कि इस क्षतिग्रस्त हाइवे से हर रोज प्रशासनिक अधिकारी भी गुजरते हैं। इसके बावजूद इसकी मरम्मत करवाने की जहमत कोईनहीं उठा रहा है। क्षेत्र से गुजरने वाला ३८ किमी लम्बा यह हाइवे फिलहाल गड्ढों में तब्दील हो चुका है।
चार रास्ता-शहर से गुरजने वाले चार रास्ते के आस पास अक्सर काफी भीड़ भाड़ रहती है। गुजरात की ओर जाने व आने वाली बसें यहीं रुकती है, लेकिन मुख्य हाइवे पर बने गड्ढे हादसे को न्यौता दे रहे हैं। हाइवे बनने के बाद से विभाग ने यहां एक बार भी पेचवर्क नहीं करवाया।
पुलिस थाना-पुलिस थाने के समक्ष हाइवे टूटने से बड़ा गड्ढा बन गया है। पिछले छह माह से ज्यादा समय से इसे ठीक नहीं किया जा रहा है। इसमें गिरने से कई बार हादसे भी हुए। जिसके बाद लोगों ने इसे ठीक करने के लिए विभाग को अवगत भी करवाया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। ऐसे में पुलिस ने यहां गति अवरोधक लगा रखे हैं। ताकि रात में कोई वाहनचालक हादसे का शिकार ना हो।
कारोला पंप-कारोला स्थित पेट्रोल पंप के पास भी बड़ा गड्ढा है। यहां वाहनों की आवाजाही ज्यादा होने से गड्ढा और बड़ा होता जा रहा है। विभाग ने यहां पिछले चार माह से पेचवर्क तक नहीं करवाया है। जिससे स्पीड से आने वाले वाहनचालक अक्सर दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं।
धमाणा- धमाणा बस स्टैंड पर मामाजी मंदिर के पास भी लोगों ने मनमर्जी से हाइवे पर डिवाइडर बना दिए हैं। जिसकी वजह से हाईवे टूट गया है। पिछले एक साल से ना तो ये डिवाइडर हटाया गए और ना ही टूटे हाइवे को ठीक किया गया है। इसी प्रकार धमाणा का गोलिया बस स्टेशन के पास भी हाइवे पर बड़ा गड्ढा हादसे का सबब बना हुआ है।
यहां भी ऐसे हालत
इसी प्रकार गरडाली, प्रतापपुरा, डेडवा, मीठीबेरी, झोटड़ा, सिवाड़ा व रणोदर सरहद में जगह-जगह से हाइवे टूट चुका है। जहां चलना वाहन चालकों के लिए जोखिम भरा है। इसके बावजूद हाइवे अथॉरिटी इस ओर ध्यान नहीं दे रही है।
यहां दो से पांच फीट चौड़े गड्ढे
माखुपुरा पुलिस चौकी के पास हाइवे क्षतिग्रस्त होने से दो फीट, जबकि बड़सम बाइपास रोड पर पांच फीट गहरा गड्ढा बना हुआ है। मुख्य रास्ते पर होने से यहां हर समय हादसे की आशंका बनी रहती है। विभाग की ओर से इसे ठीक नहीं कराने के कारण लोगों ने एहतियात के तौर पर यहां कांटे व अन्य सामग्री डालकर संकेतक बना रखा है। इसके अलावा यह रास्ता शहर में जाने वाला मुख्य मार्ग होने से स्कूली बस व बच्चे भी यहां से गुजरते रहते हैं। जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned