पूर्व पार्षद ने कहा-बैठक में आए पीएचईडी अधिकारियों का मुंह काला कर वापस भेजो

पूर्व पार्षद ने कहा-बैठक में आए पीएचईडी अधिकारियों का मुंह काला कर वापस भेजो
women protest for irregular drinking water

Dharmendra Ramawat | Updated: 31 May 2018, 11:07:20 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

वार्ड 1 में पेयजल किल्लत से परेशान महिलाओं ने मटके फोड़ जताया विरोध, कहा-सांचौर में लोग प्यासे मर रहे हैं और अफसर जालोर में बैठक कर रहे हैं

सांचौर. शहर में पेजयल समस्याओं से परेशान महिलाएं बुधवार को जलदाय विभाग पहुंची, लेकिन कार्यालय में कोई अधिकारी नहीं होने से आक्रोशित महिलाओं ने मटके फोड़कर रोष जताया। इस दौरान पूर्व पार्षद व राजस्थान पशुपालन बोर्ड की सदस्य हरिया देवासी ने कलक्टर को फोन लगाकर विभागीय अधिकारियों की ओर से बरती जा रही लापरवाही को लेकर रोष जताया। जिस पर कलक्टर ने मंत्री के जाालोर आने के कार्यक्रम का हवाला देते जिला मुख्यालय पर बैठक के बाद अधिकारियों को इस बारे में निर्देश देने की बात कही। जिस पर हरिया देवी ने कलक्टर से पीएचईडी अधिकारियों का मुंह काला कर वापस भेजने की बात कही। उन्होंने कहा कि सांचौर में लोग प्यासे मर रहे हैं, जबकि अधिकारी एसी गाडिय़ों में घूम रहे हैं। यह जनता के साथ धोखा है। उन्होंने कलक्टर से कहा कि गुरुवार तक वार्ड 1 में जलापूर्ति सुचारु नहीं होने पर अधिकारियों को ऑफिस में घुसने नहीं दिया जाएगा।
मौहल्ले की दो दर्जन से ज्यादा महिलाएं जलदाय विभाग के कार्यालय में खड़ी हैं, लेकिन अधिकारी फोन रिसीव ही नहीं कर रहे हैं। पूरा विभाग सूना पड़ा है। ऐसे में इस भीषण गर्मी में लोग मर गए तो इसका जवाब कौन देगा। इसके बाद महिलाओं ने रोष जताते हुए जलदाय विभाग के समक्ष मटके फोड़ रोष जताया।
सीएम से करेंगे शिकायत
वार्ड 1 में पिछले चार माह से ज्यादा समय से पेयजल आपूर्ति की समस्या चल रही है। विभागीय अधिकारियों की लापरवाही से मौहल्लेवासियों को पेयजल नहीं मिल पा रहा है। लोगों का कहना था कि चार माह बाद राज्य में विधानसभा चुनाव हैं। ऐसे में वे नेताओं को मौहल्ले में घुसने नहीं देंगे। वहीं इस बारे में सीएम से शिकायत की जाएगी। इस दौरान महिलाओं ने जलदाय विभाग के खिलाफ नारेबाजी भी की।
महिलाएं बोलीं-लाइनमैन 100 रुपए ले गया
शहर में जलदाय विभाग की कार्यशैली का अंदाजा बुधवार को हुए वाकये से ही लगाया जा सकता है। सहायक अभियन्ता कार्यालय में अधिकारियों का घेराव करने गई महिलाओं ने जेईएन सुनील बैरवा का घेराव कर कहा कि वार्ड १ में विभागीय लाईनमैन को नल कनेक्शन जोडऩे के लिए बुलाया गया था। इसकी ऐवज में उसने उपभोक्ता से सौ रुपए तो ले लिए, लेकिन आज दिन तक कनेक्शन जोडऩे आया ही नहीं। महिलाओं का कहना था कि इस बारे में कलक्टर से भी शिकायत की जाएगी।
इधर, नाले में जोड़ दी पेयजल पाइप लाइन
जलदाय विभाग का कोई धणी धोरी नहीं है। शहर की रमेश कॉलोनी में जलदाय विभाग की ओर से गंदे पानी के नाले में पाइप लाइन बिछाई गई है। बुधवार को इस नाले के नीचे बिछाई गई पाइपलाइन फूट जाने से नाले का गन्दा पानी पाइपलाइन में चला गया। जिसकी शिकायत विभाग को करने के बावजूद कोईसुनने वाला नहीं था। मौहल्ले के लोगों ने समस्या का समाधान नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी।
इनका कहना है...
जिला मुख्यालय पर बैठक में भाग लेने के लिए जालोर जा रहा हूं। कार्यालय में कोई अधिकारी नहीं है तो इस बारे में जानकारी लेता हूं। पेयजल समस्याओं के निस्तारण के प्रयास करेंगे।
- जयन्त कनखेडिय़ा, एक्सईएन, पीएचईडी, सांचौर
मौहल्ले में पिछले चार माह से ज्यादा समय से पेयजल आपूर्ति की समस्या चल रही है। विभागीय अधिकारियों को इस बारे में कई बार अवगत करवाया, लेकिन वे ध्यान ही नहीं दे रहे हैं। समस्या का समाधान नहीं होने पर अधिकारियों का घेराव करेंगे। वहीं सीएम से शिकायत की जाएगी।
- हरिया देवी, पूर्व पार्षद व सदस्य, राजस्थान पशुपालन बोर्ड

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned