अतिक्रमण हटाने गई महिला पटवारी से करते रहे गाली-गलौज, फिर भी डटी रही और खाली करवाई जमीन

Dharmendra Ramawat

Updated: 08 Jun 2019, 11:28:29 AM (IST)

Jalore, Jalore, Rajasthan, India

सांचौर. जाखल ग्राम पंचायत की करीब 100 हैक्टयेर से ज्यादा सरकारी भूमि पर भू-माफियाओं ने कब्जा कर अतिक्रमण कर रखा था। पटवारी ने इसे हटाने को लेकर अतिक्र्रमियों को नोटिस दिया तो उसे धमकियां मिली। जिसे चुनौती के रूप में लेते हुए जाखल पंचायत में कार्यरत महिला पटवारी इंदू विश्नोई अतिक्रमण हटाने प्रशासनिक अमले के साथ मौके पर पहुंची। इस दौरान दंबगों ने उसके साथ धक्कामुक्की कर गाली-गलौज भी की। फिर भी वह डटी रही और हिम्मत नहीं हारी। लगातार अभियान को जारी रख गुरूवार को प्रशासनिक लवाजमे के साथ पंचायत की बेशकीमती गोचर भूमि को अतिक्रमण मुक्त करवाकर ही दम लिया। महिला पटवारी की यह साहसिक कार्रवाई क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है। अतिक्रमण हटाने गया दस्ता भू- माफियाओं के विरोध की वजह से एकबारगी कमजोर पड़ता नजर आया, लेकिन महिला पटवारी ने खुद जेसीबी के आगे जाकर अवैध निर्माण तोडऩे के निर्देश दिए। इस तरह कार्मिकों के हौसले को उसने टूटने नहीं दिया। कार्रवाई के दौरान तहसीलदार पिताम्बरदास राठी व भू- निरीक्षक लाधाराम पुरोहित मौका स्थल पर मॉनीटरिंग कर रहे थे।
जगह-जगह कर रहे अतिक्रमण
ग्राम पंचायत की सरकारी जमीन पर अतिक्रमण को लेकर दंबगों ने सारे हथकंडे अपना लिए, लेकिन महिला पटवारी बिश्नोई ने किसी प्रकार की शिथिलता नहीं दिखाई। जाखल में कुछ ग्रामीणों की ओर से जाखल पटवार भवन के आगे एक केबिन में बजरी डालकर अतिक्रमण का प्रयास किया जा रहा था। इसके अलावा डेडवा से हरियाली जाने वाली मुख्य रोड पर जाखल में लाखों रुपए की बेशकीमती भूमि पर अतिक्रमण कर बड़े बड़े बाड़े बनाए जा रहे थे। जिसके विरुद्ध जाखल सरपंच की ओर से प्रार्थना पत्र पेश किया गया। जिस पर महिला पटवारी व धमाणा के भू-अभिलेख निरीक्षक लाधाराम पुरोहित मौके पर पहुंचे और अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की।
बदतमीजी की, गालियां दी, फिर भी कार्रवाई
अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान महिला पटवारी के साथ गांव के कुछ बदमाश लड़कों ने बदतमीजी भी की और गाली-गलौज करने लगे। साथ ही भू-अभिलेख निरीक्षक के साथ हाथापाई पर उतारू हो गए। सूचना पर सांचौर थाने से कुछ ही देर में मौके पर पुलिस पहुंची। जिसके बाद उपद्रवी मौके से भाग छूटे। इस दौरान वहां शराब के नशे में मौजूद एक पीएचईडी कार्मिक भी अतिक्रमण हटाने में बाधा उत्पन्न करने लगा। जिसके बाद तहसीलदार के निर्देश पर पुलिस ने उसे मौके से हटाया। वहीं पंचायत के सहयोग से जेसीबी मंगवा कर लाखों रुपए की बेशकीमती गोचर भूमि को अतिक्रमण मुक्त करवाया गया।
इनका कहना...
पंचायत की भूमि पर अतिक्रमण के बारे में ग्राम पंचायत व ग्रामीण बार-बार शिकायतें कर रहे थे। जिसके बाद अतिक्रमण हटाने गई पटवारी इंदु बिश्नोई ने साहसिक कार्रवाई कर राजधर्म का पालन किया है जो काबिले तारीफ है। बाधा पहुंचाने वालों के खिलाफ भी प्रशासनिक स्तर पर कार्रवाई कर रहे हैं। पटवारी के इस साहसिक कार्य से राजस्व विभाग के अन्य कार्मिकों का भी मनोबल बढ़ेगा।
- पिताम्बरदास राठी, तहसीलदार, सांचौर
ग्राम पंचायत की भूमि पर भू- माफियाओं ने कब्जा कर रखा था। हटाने के लिए समझाइश की तो धमकी सहित कई हथकंडे अपनाए गए। वहीं अतिक्रमण हटाने के दौरान राजकार्य में बाधा भी उत्पन्न की गई। गुरुवार को पूर्ण मुश्तैदी से पंचायत की पूरी जमीन अतिक्रमण मुक्त करवाई गई। जिसे अब सुरक्षित कर लिया जाएगा। ताकि कोई दोबारा अतिक्रमण नहीं करे।
- इन्दु बिश्नोई , पटवारी, जाखल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned