आज होगा पांच दिवसीय गेर महोत्सव का समापन

आज होगा पांच दिवसीय गेर महोत्सव का समापन
आज होगा पांच दिवसीय गेर महोत्सव का समापन

Dharmendra Ramawat | Publish: Mar, 27 2019 11:07:13 AM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

गेर नृत्य व हास्य कलाकार जमा रहे रंग, उमड़ रही लोगों की भीड़

जालोर. भक्त प्रहलाद चौक में चल रहा गेर महोत्सव मंगलवार को चौथे दिन परवान पर रहा। इस दौरान गेरियों व हास्य कलाकारों की प्रस्तुति को देखने काफी संख्या में लोग उमड़े। कार्यक्रम की अध्यक्षता हलदेश्वर महादेव मठ के महंत मोहननाथ ने की। भक्त प्रहलाद सेवा समिति के तत्वावधान में जालोर की स्थानीय गेर पार्टियों ने कौमी एकता की मिसाल पेश करते हुए सभी कौमों के गेरियो ने सामूहिक रूप से शानदार गेर नृत्य किया। समिति के प्रवक्ता अम्बालाल माली ने बताया कि कार्यक्रम में मौजूद महिला-पुरुषों व बच्चों ने भी गेर नृत्य का लुत्फ उठाया। गेर नृत्य के दौरान समदड़ी के मदन प्रजापत व काजल जालोरी ने चुटकले सुनाकर लोगों को लोटपोट किया। साथ ही काजल जालोर एण्ड पार्टी ने मारवाड़ी डीजे पर शानदार नृत्य किया। पाण्डाल में बैठे छोटे-छोटे बच्चों ने भी कलाकारों के साथ नृत्य किया। माली ने बताया कि शीतला सप्तमी के मेले में बाहरी जिलों व गांवों से पांच से छह गेर पार्टियां प्रस्तुति देंगी। जिसमें खास तौर पर माली पोलजी एण्ड गेर पार्टी की प्रस्तुति आकर्षक रहेगी। माली के अनुसार इस पार्टी ने दिल्ली के लाल किले के आगे पण्डित जवाहर लाल नेहरू के समय शानदार नृत्य कर वाहवाही लूटी थी। वहीं पूरे जिले का नाम रोशन किया था। इस दौरान नेहरू ने माली पोलजी को पुरस्कृत भी किया था। आज भी उनकी पांच पीढ़ी ढोल-थाली की थाप पर एक साथ नृत्य करती है। आज भी पूरे देश में माली पोलजी के नाम से चंग की थाप पर फाल्गुनी गीत गाए जाते हैं। इस मौके समिति के पारसमल परमार, मकसा मेवाड़ा, सादुलाराम घांची, हीरालाल घांची, गोकुलराम प्रजापत, सूजाराम प्रजापत, मीठालाल दर्जी, भंवरलाल सोनी, बाबूलाल परमार, मोहनलाल माली, उमाकांत गुप्ता, रमेश घांची, जुहारपुरी, खसाराम सांखला, छोगालाल सुन्देशा, पुखराज घांची, छतराराम सुथार, नैनाराम लोहार, गजाराम देवासी, बंशीलाल घांची, सुरेश माली व देवाराम प्रजापत सहित कई पदाधिकारी मौजूद थे। मंच संचालन प्रकाश परमार व छतराराम घांची ने किया।
गेर महोत्सव का समापन आज
भक्त प्रहलाद चौक में चल रहे पांच दिवसीय गेर महोत्सव का बुधवार शाम को पीर गंगानाथ महाराज के सान्निध्य में विधिवत समापन किया जाएगा। वहीं सुबह 12 से शाम 5 बजे तक व रात 8 से 10 बजे तक गेर नृत्य किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned