यहां नालों को ही चट कर रहे अतिक्रमी, रोके कौन

यहां नालों को ही चट कर रहे अतिक्रमी, रोके कौन
यहां नालों को ही चट कर रहे अतिक्रमी, रोके कौन

Dharmendra Ramawat | Updated: 15 Dec 2018, 11:30:11 AM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

शहर के जाकोब तालाब व केदार तालाब के नाले पर हुआ अतिक्रमण

भीनमाल. न्यायालय के आदेश के बाद भी शहर में बरसाती नाले को अतिक्रमण चट कर रहा है। दिनों-दिन नालों के अस्तित्व पर संकट गहरा रहा है। राजस्व रेकर्ड में तो नाले दर्ज है, लेकिन मौके से नाले गायब हो रखे है। यही स्थिति रही तो आने वाले कुछ सालों में बरसाती नाले एकदम गायब हो जाएंगे। इतना कुछ होने के बाद भी राजस्व विभाग व नगरपालिका प्रशासन उदासीन बना हुआ है। हैरानी की बात तो यह है कि बरसाती नालों के बहाव क्षेत्र में मकान बन गए है। इसके अलावा दर्जनों जगहों पर भूखण्ड भी बना दिए है। चौकाने वाली बात तो यह है कि नालों के बहाव क्षेत्र में कई जगह तो पालिका ने पट्टे भी जारी कर दिए है। लोग नालों की जमीन पर अतिक्रमण कर मालामाल हो रहे है। 30-40 फीट चौड़े नाले अतिक्रमण से 15-20 फिट में ही सिमट गए है। बरसाती पानी की निकासी नहीं होने से शहर में बाढ़ के हालात भी बन चुके है। इसके बाद भी पालिका प्रशासन की ओर से अतिक्रमणों पर गाज नहीं गिर रही है।
सरकारी रेकर्ड से आधा में सिमट रहा है नाला
राजस्व विभाग के अधिकारियों की उदासीनता के चलते नाले अपना अस्तित्व खो रहे है। शहर के रीको क्षेत्र, केदार तालाब व बालसमंद बांध से जाकोब तालाब, तलबी तालाब के बरसाती पानी के नाले अतिक्रमण की भेंट चढ़ चुके है। अतिक्रमण से हालात यह हो गई है कि राजस्व विभाग के रेकर्ड से आधा एरिया में ही सिमट गए है। ऐेसे में बारिश के दिनों में नालों से पानी की निकासी नहीं हो पाती है।
2015-17 में झेल चुके है बाढ़ के हालात
बरसाती नालों व नाड़ी-तालाबों के बहाव क्षेत्र में अतिक्रमण का खामियाजा शहरवासियों को भुगतना पड़ रहा है। अतिक्रमण की वजह से बरसाती नालों का बहाव प्रभावित हो गया है। बरसाती नालों का बहाव प्रभावित होने की वजह से शहर दो बार बाढ़ के हालात भी देख चुका है। अतिवृष्टि के चलते 2015 व 2017 में शहर में बाढ़ के हालात भी झेलने पड़े। इसके बावजूद भी अतिक्रमण पर कार्यवाही नहीं हो रही है।
कार्यवाही करेंगे
बरसाती पानी के नालों पर जहां भी अतिक्रमण हुए है वहां पर कार्यवाही कर अतिक्रमण हटा दिए जाएंगे। इसके अलावा कहां पर नाले के बहाव क्षेत्र में पट्टे जारी हुए हैै, तो उसकी भी जांच की जाएगी।
- अरूण कुमार शर्मा, अधिशाषी अधिकारी, नगरपालिका-भीनमाल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned