बिना अनुमति के लगा दिया क्रेशर, अब जागा प्रशासन

रानीवाड़ा उपखंड क्षेत्र के जालेरा खुर्द में प्रशासनिक अधिकारियों को धत्ता दिखाते हुए बिना इजाजत के एक स्टोन क्रेशर स्थापित कर दिया गया। इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों को जानकारी मिलने के बाद अब विभागीय पर जांच करवाई जा रही है

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Published: 28 Feb 2021, 09:02 AM IST

रानीवाड़ा. उपखंड क्षेत्र के जालेरा खुर्द में प्रशासनिक अधिकारियों को धत्ता दिखाते हुए बिना इजाजत के एक स्टोन क्रेशर स्थापित कर दिया गया। इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों को जानकारी मिलने के बाद अब विभागीय पर जांच करवाई जा रही है। जानकारी के अनुसार जालेरा खुर्द में एक ठेकेदार ने स्टोन क्रेशर के लिए फाइल लगाई थी। फाइल में कन्वर्जन समेत विभिन्न स्तरीय परमिशन के दस्तावेज संलग्न थे। विभागीय अधिकारियों की ओर से अभी तक इस संचालक को परमिशन जारी नहीं की गई है। फाइल जांच स्तर पर चल रही है, लेकिन इसके विपरीत संचालक ने सरकारी स्तर पर अनुमति मिलने से पहले ही क्रेशर का काम शुरू कर दिया। वर्तमान में इस संचालक ने क्रेशर पूरी तरह स्थापित भी कर दिया है और यहां से काम भी शुरू हो चुका है। विभागीय अधिकारी खुद मान रहे हैं कि यह क्रेशर अभी नियमानुसार स्थापित नहीं हो सकता और न ही संचालित हो सकता है।
अब जांच में जुटा प्रशासन
संचालक की मनमर्जी की शिकायत के बाद अब प्रशासन हरकत में आया है। अधिकारियों का कहना है कि संचालक की ओर से पूरी तरह मनमर्जी की गई है। इस पर जांच करवाई जाएगी। गड़बड़ी पर नियमानुसार कार्रवाई की पैनल्टी भी लगाई जाएगी।
इनका कहना...
अभी तक क्रेशर स्थापित करने की अनुमति जारी नहीं हुई है। संचालक ने मनमर्जी से क्रेशर स्थापित कर दिया है तो नियमानुसार गलत है। जांच के साथ कार्रवाई की जाएगी।
- शंकरलाल मीणा, तहसीलदार, रानीवाड़ा
क्रेशर के लिए आवेदक ने आवेदन किया था। फाइल तहसीलदार को प्रेषित की गई थी। जहां से अभी तक जांच रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है।
- प्रकाशचंद अग्रवाल, एसडीएम, रानीवाड़ा

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned