इसरो वैज्ञानिक कल्ला ने दी भारतीय सेटेलाइट विकास की जानकारी

इसरो वैज्ञानिक कल्ला ने दी भारतीय सेटेलाइट विकास की जानकारी
इसरो वैज्ञानिक कल्ला ने दी भारतीय सेटेलाइट विकास की जानकारी

Dharmendra Ramawat | Publish: Oct, 27 2018 11:51:42 AM (IST) | Updated: Oct, 27 2018 11:51:43 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

इसरो में वैज्ञानिक रहे डॉ. ओपीएन कल्ला ने भारतीय अंतरिक्ष, एटॉमिक एनर्जी व संचार सिस्टम में माइक्रोवेव सहित विज्ञान में अभिरुचि बढ़ाने वाले विषयों पर व्याख्यान दिया

जालोर. राजकीय महिला महाविद्यालय व रामकृष्ण विवेकानंद सेवाश्रम जालोर के संयुक्त तत्वावधान में शुक्रवार को महिला महाविद्यालय में इसरो में वैज्ञानिक रहे डॉ. ओपीएन कल्ला ने भारतीय अंतरिक्ष, एटॉमिक एनर्जी व संचार सिस्टम में माइक्रोवेव सहित विज्ञान में अभिरुचि बढ़ाने वाले विषयों पर व्याख्यान दिया। डॉ. कल्ला ने प्रोजेक्टर व वीडियोग्राफिक्स फिल्म के जरिए भारतीय सेटेलाइट विकास के बारे में विस्तार से समझाया। डॉ. कल्ला अहमदाबाद के स्पेस एप्लीकेशन सेंटर इसरो में वैज्ञानिक रह चुके हैं। वहीं उन्हें भारत के 'माइक्रोवेव रिमोट सेंसिंगÓ के जनक के रूप में भी जाना जाता है। उन्होंने माइक्रोवेव के माध्यम से 'नीलमÓ और 'ठानेÓ जैसे चक्रवाती तूफानों का भी पता लगाया। 85 वर्षीय डॉ. कल्ला को वर्ष 2010 में 'माइक्रोवेव अकादमिक पुरस्कारÓ से भी नवाजा गया। इसके अलावा वे मिसाइलमैन के नाम से विख्यात पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के नजदीकी वैज्ञानिक भी रहे हैं। डॉ. कल्ला पिछले कई वर्षों से सैकण्डरी व सीनियर सैकण्डरी के विज्ञान विषय में अध्ययनरत विद्यार्थियों से निरंतर संवाद कार्यक्रम कर राष्ट्र की भावी पीढ़ी को विज्ञान विषय में अभिरुचि बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।
छात्र-छात्राओं से किया संवाद
महाविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान डॉ. कल्ला ने छात्र-छात्राओं से संवाद किया और विज्ञान से संबंधित विद्यार्थियों के प्रश्नों व जिज्ञासाओं का सरल वैज्ञानिक तरीके से समाधान किया। कार्यक्रम में महाविद्यालय की छात्राओं के अलावा जिले के विद्यालयों से विद्यार्थियों ने भी भाग लिया। कार्यक्रम अध्यक्षप्राचार्य डॉ. अनिता कोठारी ने विद्यार्थियों को डॉ. कल्ला से प्रेरणा लेकर भारतीय विज्ञान प्रौद्योगिकी क्षेत्र में आगे बढऩे व राष्ट्र की उन्नति में सहभागी बनने के लिए प्रेरित किया।
विद्यार्थियों का किया सम्मान
कार्यक्रम के दौरान डॉ. कल्ला व प्राचार्य ने जिले के विद्यालयों में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले दो-दो विद्यार्थियों को सम्मानित किया। इस दौरान रामकृष्ण विवेकानन्द सेवाश्रम, जालोर के अध्यक्ष कमल किशोर, कार्यक्रम सह-संयोजक भूपेश व्यास, पूर्व प्राचार्य बाबूलाल कुम्हार, सेवानिवृत्त लेखाधिकारी ईश्वरलाल शर्मा, मोहन किशन बिस्सा, छात्रसंघ अध्यक्ष दिपीका शर्मा, छात्रसंघ कार्यकारिणी की छात्राएं व महाविद्यालय के समस्त संकाय सदस्य मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन संयोजक ललित दवे ने किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned