जानिए...कार्रवाई नहीं होने पर ग्रामीण फिर बैठे धरने पर

जानिए...कार्रवाई नहीं होने पर ग्रामीण फिर बैठे धरने पर

Dharmendra Kumar Ramawat | Publish: Jan, 13 2018 07:10:21 PM (IST) Jalore, Rajasthan, India

चोरी हुई भैंस की बरामदगी को लेकर पीडि़त परिवार व ग्रामीण उपखंड कार्यालय के आगे शनिवार को धरने पर बैठे


सांचौर.चितलवाना के अगड़वा थाना क्षेत्र से चोरी हुई भैंस की बरामदगी को लेकर पीडि़त परिवार व ग्रामीण उपखंड कार्यालय के आगे शनिवार को धरने पर बैठे। इस दौरान ग्रामीणों ने सीएम के नाम एसडीएम को ज्ञापन भी सौंपा। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि गुजरात निवासी आरोपी रसूलखां कीलवा में भैंस चोरी करते पकड़ा गया था। इसके बाद उसने पुलिस के समक्ष चोरी करना कबूल भी किया, लेकिन आरोपित को गिरतार करने के बावजूद पुलिस ने ना तो भैंस को बरामद किया और ना ही भैंस की कीमत दिलवाईजा रही है। ग्रामीणों का कहना है कि चितलवाना थाने में कार्यरत हेडकांस्टेबल गोपालङ्क्षसह मामले की जांच कर रहे थे। जिन्होंने पांच हजार रुपए व गाड़ी किराए पर ले जाकर आरोपी के परिवार से मुलाकत करवाई थी। साथ ही अकेले में बातचीत की थी। जिसके बाद हेड कांस्टेबल ने भैंस की कीमत दिलाने की बात कही थी। मगर अब पीडि़त परिवार की एक बात नहीं सुनी जा रही है। ग्रामीणों ने जल्द ही मांगें नहीं मानने पर आंदोलन को तेज करने की चेतावनी दी है। धरने पर ग्रामीण हुकमाराम, मेवाराम, मणी देवी, धोलाराम, अमराराम, छोगाराम, प्रतापङ्क्षसह, मसराराम, दानाराम, भीखी देवी व मोतीराम सहित ग्रामीण व पीडि़त परिवार के लोग बैठे रहे।
एक माह पहले दिया था धरना...
अगड़वा के ग्रामीणों ने भैंस बरामदगी को लेकर उपखंड कार्यालय के आगे 13 दिंसबर को धरना दिया था। जिस पर डीएसपी फाऊलाल मीणा सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने मामले में १५ दिन का लिखित आश्वासन दिया था। इस बात को एक माह बीतने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई है। ऐसे में ग्रामीण फिर से धरने पर बैठे हैं।

आश्वासन के बाद नहीं कार्रवाई
गत दिसम्बर को ग्रामीणों की ओर से धरना प्रदर्शन करने पर प्रशासन के अधिकारियों ने १५ दिन में कार्रवाई करने का लिखित आश्वासन दिया था। बावजूद कार्रवाई नहीं करने पर ग्रामीणों को फिर से धरना करना पड़ा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned