scriptme bhi patrika : young men and women ran in the marathon | Jalore : मैं भी पत्रिका का जज्बा... मैराथन में दौड़े युवक-युवतियां | Patrika News

Jalore : मैं भी पत्रिका का जज्बा... मैराथन में दौड़े युवक-युवतियां

सवेरे 8 बजे हरिदेव जोशी सर्किल से कलक्ट्रेट तक दौड़ का आयोजन 50 से अधिक युवक युवतियों नेे लिया भाग

जालोर

Published: March 07, 2022 08:47:33 pm

जालोर. राजस्थान पत्रिका के 67वें स्थापना दिवस के ग्लोबल फेस्ट के तहत सोमवार सवेरे हरिदेव जोशी सर्किल से कलक्ट्रेट तक दौड़ का आयोजन किया गया। दौड़ दो वर्गों में आयोजित की गई। आर्य वीर दल से दलपतसिंह आर्य की अगुवाई में पहले बालिका वर्ग और उसके बाद बालक वर्ग में दौड़ हुई। उत्साह के साथ दोनों ही वर्ग में बालक और बालिकाओं ने फिनिश लाइन क्रॉस की। यहां पर एसपी हर्षवर्धन अग्रवाला और एएसपी अनुकृति उज्जैनिया ने विजेताओं को पारितोषिक प्रदान किया। पारितोषिक का वितरण दलपतसिंह आर्य की ओर से किया गया। आर्य ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया और आर्य समाज की ओर से चलाई जा रही विविध गतिविधियों और कार्यक्रमों से अवगत करवाया। इस कार्यक्रम में शिवदत्त आर्य, कन्हैयालाल मिश्रा, विनोद आर्य, पुष्पेंद्र परमार, कूपाराम आर्य, कृष्ण कुमार, सुरेश शर्मा, उमेश कुमार पांडे और कैलाशचंद्र का भी योगदान रहा।
मैं भी पत्रिका का जज्बा... मैराथन में दौड़े युवक-युवतियां
मैं भी पत्रिका का जज्बा... मैराथन में दौड़े युवक-युवतियां
ये रहे विजेता
छात्रा वर्ग में कुसुम ने सबसे तेज दौड़ लगाई। इसी तरह दूसरे स्थान पर सुनीता चौधरी, तीसरे स्थान पर राधिका सेन रही। बालक वर्ग में भरत प्रथम स्थान पर रहा। इसी तरह राकेश और हिमांशु क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे।
मैं भी पत्रिका का जज्बा... मैराथन में दौड़े युवक-युवतियांशुरुआती 20 वर्ष ऊर्जावान, जीवन की दिशा तय करते हैं: एसपी

कार्यक्रम में प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए एसपी हर्षवर्धन अग्रवाला ने कहा कि जीवन के शुरुआती 20 साल अहम होते हैं। इन अवधि में यदि लक्ष्य निर्धारित कर मेहनत करें तो सफलता मिलती है। उसका फायदा आगामी 30 साल में सफलता के रूप में ही मिलता है। एसपी ने कहा कि शुरुआती 20 वर्षों में जो सकारात्मक ऊर्जा संचारित होती है, उसका सदुपयोग करने पर जीवन की दिशा तय होती है। एएसपी अनुकृति उज्जैनिया ने बालिकाओं की हौसला अफजाई की और कहा कि बेटियां खुद को कमतर नहीं समझें। साथ ही कहा कि लडक़े भी ये गलतफहमी में नहीं रहें कि लड़कियां कमजोर है। उन्होंने कहा कि लक्ष्य निर्धारित कर प्रयास करें। उन्होंने कहा कि जीवन में किसी भी सेक्टर में भविष्य बनाएं, लेकिन फिजिकली मजबूत होना जरुरी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी, भारत में ठीक नहीं हालात, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा हैकर्नाटक में बड़ा हादसाः बारातियों से भरी गाड़ी पेड़ से टकराई, 7 की मौत, 10 जख्मीजल्द ही कमर्शियल फ्लाइट्स शुरू करेगा जेट एयरवेज, DGCA ने दी मंजूरीअब तक 11 देशों में मंकीपॉक्स : 21 मई को WHO की इमरजेंसी मीटिंग, भारत में अलर्ट, अफ्रीकी वैज्ञानिक हैरानफिर महंगी हुई CNG: राजस्थान में दाम सबसे अधिक, Diesel - CNG के दाम में अब मात्र 12 रुपए का अंतर'मैं क्रिकेट खेलना छोड़ दूंगा'- Virat Kohli ने रिटायरमेंट का संकेत देकर चौंकायाअकाली दल के दिग्गज नेता व पंजाब के पूर्व मंत्री तोता सिंह का निधन, सरपंच से पार्टी प्रेसिडेंट तक ऐसा था सफरभीषण सडक़ हादसा: पूर्व सांसद के भतीजे समेत 4 की मौत, गैसकटर से काटकर निकाले गए शव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.