नाबालिग बेटे के अपहरण से व्यथित मां ने किया आत्मदाह

रामसीन थाना क्षेत्र के थूर गांव में एक विधवा महिला ने मंगलवार सुबह केरोसीन उड़ेलकर आत्मदाह कर लिया। महिला की मौत पर आक्रोशित हुए परिजन व थूर गांव के ग्रामीणों ने शव नहीं उठाकर उपखण्ड कार्यालय के बाहर धरना-प्रदर्शन शुरू किया।

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Updated: 03 Mar 2021, 09:06 AM IST

भीनमाल. रामसीन थाना क्षेत्र के थूर गांव में एक विधवा महिला ने मंगलवार सुबह केरोसीन उड़ेलकर आत्मदाह कर लिया। महिला की मौत पर आक्रोशित हुए परिजन व थूर गांव के ग्रामीणों ने शव नहीं उठाकर उपखण्ड कार्यालय के बाहर धरना-प्रदर्शन शुरू किया। परिजनों ने पुलिस पर एफआईआर दर्ज नहीं करने व आरोपियों से सांठ-गांठ कर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने रामसीन थानाप्रभारी को निलंबित करने की भी मांग की। इधर, महिला की मौत की सूचना मिलते ही डीएसपी शंकरलाल मय जाब्ता मौके पर पहुंचे और परिजनों से समझाइश की, लेकिन परिजन नहीं माने। मौत से पहले मृतका ने गंभीर अवस्था में राजकीय चिकित्सालय में पुलिस के सामने दिए पर्चा बयान में दादाल निवासी दो आरोपियों के खिलाफ उसकी नाबालिग पुत्री का अपहरण करने की बात कही। मृतका थूर निवासी हविया कंवर (58) पत्नी स्व. मंगलसिंह है। ग्रामीणों ने बताया कि मृतका की नाबालिग पुत्री का 23 फरवरी को दो जनों ने अपहरण कर लिया था। जिसे पुलिस अभी तक न तो ढूंढ पाई है और न ही आरोपियों से पूछताछ की है। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने पहले अपहरण का मामला दर्ज नहीं किया। उसके बाद समय पर कार्रवाई नहीं की। घटना से क्षुब्ध महिला ने मंगलवार सुबह केरोसीन उड़ेलकर आत्मदाह कर लिया। लोगों ने उपचार के लिए शहर के राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। रात में आरोपियों ने मृतका को फोन पर उसकी लडक़ी उनके पास होने व राजीनामे के लिए धमकियां भी दी।
मौत के बाद आक्रोशित हुए लोग
महिला की मौत के बाद परिजन व ग्रामीण आक्रोशित हो गए। दोपहर बाद लोगों ने मांगों को लेकर उपखण्ड कार्यालय के बाहर धरना-प्रदर्शन शुरू किया। उन्होंने पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने व राजीनामे का आरोप लगाया। लोगों ने आरोपियों को गिरफ्तार करने, नाबालिग को बरामद करने व रामसीन थानाप्रभारी को निलंबित करने की मांग की। इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन भी सौंपा। ज्ञापन में बताया कि नाबालिक दादाल निवासी हड़मतसिंह, शोभाकंवर पत्नी नरपतसिंह भगाकर ले गए। उसके बाद नाबालिक को महेन्द्रसिंह पुत्र पदमसिंह सुराणा को सुपुर्द किया। थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई। आरोपियों ने मृतका को लडक़ी को नहीं देने व नाबालिक की अश्लील फाटो वायरल करने की धमकी भी दी। उपखण्ड अधिकारी ओमप्रकाश व डीएसपी शंकरलाल ने ग्रामीणों से समझाइश भी की। ग्रामीणों ने शीघ्र से शीघ्र आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। धरने के दौरान जनहित संघर्ष समिति के अध्यक्ष शेखर व्यास, भाजपा जुंजाणी मण्डल अध्यक्ष टीकमसिंह निंबावास, मदनसिंह थूर, भंवरसिंह, उत्तमसिंह, पहाड़सिंह, परखाराम व बगाराम सहित कई ग्रामीण मौजूद थे।
कार्यवाही चल रही है...
मृतका के दिए बयान पर पुलिस ने दो जनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। नाबालिग की बरामदगी व आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें लगी हुई है।
- श्यामसिंह, एसपी

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned