नर्मदा के पानी पर सांसद बोले-सरकार पैसे दे रही है तो काम में ढिलाई नहीं चलेगी

जिले को पेयजल के लिए रणेदर-तैतरोल में जिले भर के नर्मदा व पीएचईडी अधिकारियों की सांसद ने ली समीक्षा बैठक

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Published: 26 Jan 2018, 11:00 AM IST

चितलवाना. जब सरकार पेयजल प्रोजेक्ट के लिए पैसे दे रही है तो ठेकेदार के काम में ढिलाई बरदाश्त नहीं की जाएगी। गर्मियों में जिलेभर की प्यास बुझाने के लिए नर्मदा का पानी हर हाल में देना होगा। यह बात रणोदर-तैतरोल में जिले भर को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए नर्मदा और पीएचईडी अधिकारियों की समीक्षा बैठक में सांसद देवजी एम पटेल ने गुरुवार को कही। सांसद ने जिलेभर के अधिकारियों की बैठक लेकर एफआर, ईआर व डीआर प्रोजेक्ट की प्रगति रिपोर्ट जानकारी। साथ ही प्रोजेक्ट का कार्य जल्द से जल्द पूरा करने और घटिया निर्माण की जांच करवाने के निर्देश दिए। विशेष योग्यजन आयोग आयुक्त धनाराम पुरोहित ने जालोर व आहोर के लिए तुरन्त पानी देने की बात कही। रानीवाड़ा विधायक नारायणसिंह देवल ने कलस्टर में हो रहे घटिया कार्य की जांच करने की बात कही। कलक्टर बीएल कोठारी ने अधूरे कार्य जल्द ही पूरा कर गांवों व शहरों में पेयजल उपलब्ध कराने की बात कही। इस मौके भीनमाल प्रधान धुखाराम पुरोहित, ओबीसी जिला महामंत्री बाबूनाथ, जिला उपाध्यक्ष दलपतसिंह, मंडल अध्यक्ष महेन्द्रसिंह, मंडल महामंत्री हनुमानाराम सैन व एसई केएल कान्त सहित कई अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।
पहले हो तैयारी...
बैठक के दौरान सांसद ने नर्मदा में पानी की आवक से पहले पाइपलाइन, बूस्टर व पम्प रूम की टेस्टिंग करने की बात कही। ताकि गांवों व शहरों में समय पर पानी पहुंचाया जा सके। इधर, नर्मदा अधिकारियों का कहना था कि मार्च के अंत तक पानी आने के बाद में एफआर प्रोजेक्ट से गांवों व शहरों में पानी की सप्लाई सुचारु कर दी जाएगी।
जताई नाराजगी...
रणोदर-तैतरोल में चल रहे आरडब्ल्यूआर के निर्माण कार्य के दौरान जमीन के तल में प्लास्टिक नहीं बिछाने से जमीन दलदल होने को लेकर ग्रामीणों ने सांसद व कलक्टर से गुहार लगाई। ग्रामीणों का कहनाथा कि प्लास्टिक नहीं बिछाने से जमीन से रिसकर आने वाले खारे पानी के कारण किसानों की जमीन खराब हो जाएगी। ऐसे में ठेकेदार को प्लास्टिक बिछाकर कार्य करने के निर्देश दिए।

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned