छात्र संघ चुनाव: दोपहर तक दाखिल होंगे नामांकन पत्र, फिर जांच

www.patrika.com/rajasthan.news

साथ में दो प्रस्तावक व एक समर्थक को मिलेगा प्रवेश


जालोर. छात्र संघ चुनाव (Student union elections) के तहत गुरुवार से नामांकन पत्र दाखिल किए जाएंगे। महाविद्यालय की ओर से इसकी तैयारी कर ली गई है।
राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में मुख्य निर्वाचन अधिकारी आरएल नोगिया के अनुसार गुरुवार को उम्मीदवार कक्ष संख्या-8 में नामांकन पत्र दाखिल करवाएंगे। इसका समय सुबह दस बजे से दोपहर तीन बजे तक रहेगा। उम्मीदवार के साथ दो प्रस्तावक एवं एक समर्थक को ही महाविद्यालय में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। प्राप्त नामांकनों को दोपहर तीन बजे से शाम पांच बजे तक के समय में जांच की जाएगी। इस अवधि में आपत्तियां प्रस्तुत की जा सकेगी, जो दस्तावेजी सबूत के साथ लिखित में प्रस्तुत करनी होगी। वैध नामांकन सूची का प्रकाशन 23 अगस्त को किया जाएगा। विद्यार्थियों को 23 अगस्त तक ही परिचय पत्र भी वितरित किए जाएंगे। इसके अभाव में मतदान नहीं कर पाएंगे।


प्रत्याशियों के समर्थन में भागदौड़ कर रहे छात्र
जालोर. कॉलेज में छात्र संघ चुनाव को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में है। कॉलेज प्रशासन की ओर से परिचय पत्र बनाए कर वितरित किए जा रहे हैं, ताकि छात्र मताधिकार से वंचित न रह। वहीं समर्थक अपने चहेते प्रत्याशियों के समर्थन में भागदौड़ कर रहे हैं। समर्थन जुटाने के लिए छात्रों के घर तक दस्तक दी जा रही है।
शहर के राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में छात्र नेता तैयारी में जुटे हुए हैं। समर्थकों के साथ छात्रों से सम्पर्क किया जा रहा है। उधर, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के अध्यक्ष पद प्रत्याशी के कार्यालय का बुधवार को उद्घाटन किया गया। भाजपा जिलाध्यक्ष रविंद्र सिंह बालावत, विधायक जोगेश्वर गर्ग, आहोर विधायक छगनसिंह राजपुरोहित, भाजपा पूर्व जिला अध्यक्ष भबूताराम सोलंकी ने फीता काटा। छात्राओं ने अतिथियों का मोली बांध व तिलक लगाकर स्वागत किया। पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष हीनल व्यास, प्रत्याक्षी रामसिंह कुंडल, वीर बहादुर सिंह ने छात्रों का मार्गदर्शन किया।

 

समीकरण बनाने में जुटे छात्रनेता
भीनमाल.छात्रसंघ चुनाव को लेकर गुरूवार को राजकीय महाविद्यालय में नामांकन पेश किए जाएंगे। चुनाव अधिकारी कोमल कत्याल ने बताया कि चुनाव को लेकर सुबह 10 बजे से 3 बजे तक नामांकन जमा होंगे। इसके बाद शाम 5 बजे तक नामांकन पत्रों की जांच व आपत्तियां प्राप्त होगी। इधर, चुनाव को लेकर कॉलेज कैम्पस में चुनावी माहौल दिनों-दिन परवान चढ़ रहा है। सुबह से ही छात्रनेताओं के पहुंचने का क्रम शुरू होता है, जो देरशाम तक जारी रहता है।


दोनो संगठन के कार्र्यकर्र्ताओं में उत्साह
छात्रसंघ चुनाव को लेकर एबीवीपी व एनएसयूआई दोनो ही संगठनों के छात्रनेताओं में उत्साह है। छात्रनेता दल बनाकर विद्यार्थियों से मत व समर्थन मांग रहे हैं। दिनभर कॉलेज कैम्पस में छात्रनेताओं की चहल-पहल रहती है। समर्थन के लिए संभावित प्रत्याशी मतदाताओं के गांव-मोहल्ले तक भी पहुंच रहे है। एबीवीपी की ओर से अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित कर दिया है, लेकिन एनएसयूआई की ओर से एक भी प्रत्याशी नहीं घोषित किया है। दोनो ही छात्रनेता जातीय समीकरण बिठाने के लिए गठजोड़ कर रहे है।


एबीवीपी शहर व एनएसयूआई ग्रामीण क्षेत्र
छात्रसंघ चुनाव को लेकर एबीवीपी व एनएसयूआई के छात्रनेता शहर व ग्रामीण क्षेत्र का दौरा कर रहे है। समर्थन के लिए एबीवीपी कार्यकर्ता शहर में खास फोक्स कर रहे है, तो एनएसयूआई के कार्यकर्ता ग्रामीण क्षेत्र में विद्यार्थियों से समर्थन जुटाने में लगे हुए है। हालंाकि छात्रनेता इसे नकार रहे है। एनएसयूआई प्रदेश महासचिव प्रकाश बागली का कहना है कि संगठन को शहर व ग्रामीण क्षेत्र से पर्याप्त समर्थन मिल रहा है। एबीवीपी जिला संयोजक अंकित दुआ का कहना है कि शहरी क्षेत्र में एबीवीपी मजबूत है। ग्रामीण क्षेत्र में भी संगठन पर्याप्त समर्थन है।
यह संभाल रहे है कमान
दोनो संगठन के छात्रनेता अपनी-अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे है। एबीवीपी में जिला संयोजक अंकित दुआ, नगर मंत्री दीपक देवासी, सहमंत्री जयेश त्रिवेदी, भाविन व्यास, मन्नू राजपूत, पंकज गोयल, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष हितेश माली व पूर्व जिला संयोजक चैनराज पटेल एवं एनएसयूआई की ओर से जिलाध्यक्ष विकास मांजु, प्रवीण राणावत, प्रदेश महासचिव प्रकाश बांगली, हनुमान फागोतरा, वीरेन्द्रसिंह हरियाली, डायालाल काबावत व अंजली फुलवारिया जिम्मेदारी संभाल रहे हंै।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned