गर्मी की दस्तक पर जलदाय विभाग ने पेजयल आपूर्ति के लिए कसी कमर

Dharmendra Ramawat

Updated: 07 Mar 2019, 07:58:57 PM (IST)

Jalore, Jalore, Rajasthan, India

भीनमाल. गर्मी की दस्तक के साथ गांव-ढाणियों में पेजयल की समस्या को दूर करने के लिए कवायद शुरू कर दी है। विभाग ने अभावग्रस्त गांव-ढाणियों में टैंकरो से पेजयल आपूर्ति के लिए टेण्डर कर दिए है।
विभाग की ओर से भीनमाल शहर, भीनमाल पंचायत समिति, जसवंतपुरा पंचायत समिति व रानीवाड़ा पंचायत समिति के अभावग्रस्त गांव व ढाणियों में टैंकर से जलापूति के लिए करीब 8 3 लाख के टेंडर हुए। जलदाय विभाग के अधिकारियों के मुताबिक 1 अप्रेल से अभावग्रस्त गांव-ढाणियों में पेजयल की किल्लत को दूर करने के लिए टैंकरों से जलापूर्ति शुरू की जाएगी। ऐसे में अभावग्रस्त गांव के लोगों को गर्मी में पेजयल की कमी से राहत मिलेगी। वहीं टैंकर चालक जलापूर्ति के दौरान कोई गडबड़ी नहीं करे इसके लिए टैंकरों पर जीपीएस सिस्टम लगेगें। जीपीएस सिस्टम पर जलदाय विभाग के अधिकारियों की ओर से मॉनिटरिंग की जाएगी। टैकरों के माध्यम से जलापूर्ति होने से गर्मी के मौसम में लोगों को पीने के पानी के लिए दर-दर की ठोकरें नहीं खानी पड़ेगी। टैकरों से जलापूर्ति होने से काफी हद तक पेयजल समस्या से निजात मिल पाएगी।
खर्च होंगे 28.25 लाख
जलदाय विभाग की ओर से शहर व भीनमाल समिति के गांवों में टैंकरों से जलापूर्ति के लिए करीब 28 .25 लाख खर्च होंगे। जिसमें शहर के लिए 4.50 लाख, दांतीवास, फागोतरा व पूनासा के लिए 2.5 लाख, जेरण व कोटकास्ता के लिए 1.50 लाख, जुजांणी, निंबावास, भागलभीम के लिए 4.50 लाख, दासपां, कोरा व बोरटा के लिए 4.50 लाख, कावतरा, नरता व भागलसे?टा के लिए 4 लाख, कालेटी, राह, लुणावास के लिए 2.50 लाख, धुंबडिय़ा, नरसाणा व सेवड़ी के लिए 1.75 लाख, डुंगरवा, कुका व थोबाऊ के लिए 2 लाख के टेंडर हो चुके है।
जसवंतपुरा में 27.60 व रानीवाड़ा में 26 लाख
जलदाय विभाग के अधिकारियों के मुताबिक जसवंतपुरा समिति के मोदरा व सेरणा के लिए 4 लाख, बासड़ाधनजी, तातोल व सिकवाड़ा के लिए 4.90 लाख, जोडवाड़ा, खानपुर, घांसेड़ी, तवाव व भरूड़ी के लिए 4.90 लाख, चांदूर, बूगांव, डोरडा के लिए 4 लाख, जसवंतपुरा, गजापुरा, दांतलावास, कलापुरा व राजीकावास के लिए 4.90 लाख, पूनक, रामसीन, माण्डोली व मुण्डतरासिली के लिए 4.90 लाख के टेण्डर हो गए है। वहीं रानीवाड़ा समिति के गांव के लिए करीब 26 लाख के टेण्डर हो गए है। 1 अप्रेल से इन गांवों व ढाणियों में टैंकरों से जलापूर्ति शुरू हो जाएगी।
जीपीएस से होगी मॉनिटरिंग
जलदाय विभाग के अधिकारियों के मुताबिक गांव में जलापूर्ति के लिए जाने वाले टैंकरो पर जीपीएस सिस्टम लगेगें। जीपीएस सिस्टम लगने से टैंकर चालक जलपूर्ति में गडबड़ी नहीं कर सकेंगे। वहीं ग्रामीण क्षेत्र में टैंकर चालकों की मनमानी पर भी अंकुश लगेगा। विभाग के अधिकारी भी जीपीएस सिस्टम के माध्यम से टैंकरो से होने वाली जलापूर्ति की मॉनिटरिंग कर सकेंगे।
टेंडर हो चुके है
पेजयल संकट झेल रहे गांवों व ढाणियों में टैंकरों से जलापूर्ति की जाएगी। इसके लिए टेण्डर हो चुके है। 1 अप्रेल से गांव-ढाणियों में टैंकरो से जलापूर्ति शुरू हो जाएगी। टैंकरों पर जीपीएस सिस्टम भी लगेंगे।
- रामनिवास यादव, अधिशाषी अभियंता, जलदाय विभाग भीनमाल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned