श्रद्धा से निकली जलयात्रा, ज्वाला माता के लगे जयकारे

श्रद्धा से निकली जलयात्रा, ज्वाला माता के लगे जयकारे
Pran Pratistha Mahotsav in Revat Modra Jalore

Dharmendra Ramawat | Updated: 22 Apr 2018, 11:02:44 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

रेवत में ज्वाला माता मंदिर प्रतिष्ठा महोत्सव शुरू

मोदरा. निकटवर्ती रेवत गांव में ज्वाला माता मंदिर ेके तीन दिवसीय प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव का शुभारम्भ शनिवार शाम को शोभायात्रा व जलयात्रा के साथ हुआ। शोभायात्रा में संतों का सान्निध्य रहा। मंदिर परिसर में सुबह से ही आचार्यों की उपस्थिति में धार्मिक आयोजन शुरू हो गए। इस दौरान मंत्रोच्चार से पूरा वातावरण गूंजायमान हो गया। महोत्सव को लेकर राज्य सहित देश भर से राजपुरोहित जागरवाल समाज के लोग पहुंचे। शोभायात्रा में श्रीरानेश्वर महादेव मंदिर कालन्द्री सिरोही के महंत और आत्मानंद समाधि धाम जालोर के अध्यक्ष दण्डी स्वामी देवानंद महाराज, शंकरानंद महाराज, मनानंद, नोपानंद और महेशानंद महाराज समेत काफी संतों का सान्निध्य रहा। रेवत स्थित ज्वाला माता मंदिर में जयश्री ज्वालादेवी सेवा संस्थान की ओर से आयोजित प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का पहला दिन अध्यात्मिक माहौल से सराबोर हो गया। यज्ञशाला में पंडितों के आचार्यत्व में धार्मिक अनुष्ठान की शुरुआत हुई। वहीं कमेटी के सदस्य व्यवस्थाओं में जुटे रहे। शाम छह बजे के करीब शोभायात्रा निकली, जिसमें कन्याओं ने सिर पर कलश धारण कर रखे थे। वहीं ज्वाला माताजी, गणेशजी, खेतलाजी व हनुमानजी समेत कई देवी-देवताओं के जयकारों से माहौल भक्तिमय बना रहा। शोभायात्रा में रथों में देवी-देवताओं की प्रतिमाओं के साथ भक्त बैठे थे। इस अवसर पर जयश्री ज्वाला देवी सेवा संस्थान के अध्यक्ष हड़मतसिंह डूडसी, सचिव हरिसिंह भागली, कोषाध्यक्ष गिरधारीसिंह मोदरा, पदमसिंह भागली, बिशनसिंह भागली, जबरसिंह भागली, पुखसिंह मीठड़ी, मोमताजी डूडसी, वजिंग भागली व करणसिंह बागरा समेत राजपुरोहित जागरवाल समाज के लोग मौजूद थे।
ये हुए कार्यक्रम
ज्वाला माता मंदिर में तीन दिवसीय मूर्ति स्थापना और प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के पहले दिन शनिवार को गणपति पूजन, पुण्याहवाचन, मातृका पूजन, नादी श्राद्ध , मंडप प्रवेश, ग्रहहोम, कुटीर होम, शोभायात्रा, जलयात्रा, जलाधिवास व धान्याधिवास समेत कई धार्मिक आयोजन हुए।
आज होंगे ये कार्यक्रम
महोत्सव के तहत रविवार को गणपति आदि देवताओं का सुबह पूजन, प्रासाद वास्तु, प्रसाद, महास्नपन, प्रसाद पिण्डिका तत्वन्यास, तत्वहोम, शांतिक पौष्टिकादि सश्री होम, मूर्तियों का महास्वपन, तत्वन्यास, शय्याधिवास व निद्धावाहन समेत कई धार्मिक आयोजन होंगे। तीसरे दिन सोमवार को गणपति आदि देवताओं का सुबह पूजन, दिक्षुहोम, शांतिक, पोष्टिका होम, औषधि रत्न व्यास, देव प्रबोर्धन, प्रसाद, प्रवेश मध्यान्ह, अभिजीत शुभ मुहूर्त में प्राण प्रतिष्ठा विधि, दण्ड कलश, अमर ध्वजारोहण, बालभोग, महाआरती, उत्तर तंत्र पूर्णाहुति, कंकण विमोचन, ब्राह्मन संस्कार, भण्डारा प्रसाद और कर्म समापन समेत कई आयोजन होंगे।

करणी माता मंदिर प्रतिष्ठा महोत्सव में दूसरे दिन विभिन्न आयोजन
मोदरा. निकटवर्ती नरपुरा स्थित नवनिर्मित करणी धाम पंचदेवल मूर्ति स्थापना एवं प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के तहत दूसरे दिन शनिवार को विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम हुए। महोत्सव के तहत सवेरे से हवन प्रारंभ हुए। जिसमें बड़ी संख्या में समाज के लोगों और यजमानों ने भाग लिया। महोत्सव में साधु संतों का सानिध्य रहा। इससे पूर्व महोत्सव के पहले दिन शाम को भजन संध्या का आयोजन किया गया। जिसमें अशोक कुमार प्रजापति ने गणपति वंदना से कार्यक्रम का आगाज किया। इसी क्रम में रिया एंडपार्टी ने आकर्षक प्रस्तुतियां दी। इस दौरान मनमोहक व धार्मिक झांकिणं भी लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रही। महोत्सव में राम, लक्ष्मण, सीता और उज्जैन की भस्म की आरती का मनोरम प्रस्तुतियां दी। इसी तरह कार्यक्रम में विभिन्न देवी देवताओं की झांकियां भी निकाली गई।
आज ये होंगे कार्यक्रम
महोत्सव के तहत तीसरे दिन भी विभिन्न धार्मिक होंगे। दिन में हवन अनुष्ठान होंगे।वहीं शाम को कवि सम्मेलन का आयोजन होगा, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों से कवि भाग लेंगे। महोत्सव को लेकर ग्रामीणों में खासा उत्साह नजर आ रहा है। महोत्सव के तहत 23 अपे्रल को प्रतिष्ठा होगी।
151 गांवों का सहयोग
नरपुरा गांव में हो रहे प्रतिष्ठा महोत्सव में 151 गांवों के ग्रामीणों की ओर से सहयोग दिया जा रहा है। महोत्सव में सभी धार्मिक कार्यक्रम, अनुष्ठान और महाप्रसादी तक 151 गावों के कुल 358 प्रबुद्ध लोगों की ओर से सहयोग किया जा रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned