थूर प्रकरण में इन भाजपा पदाधिकारियों के खिलाफ दर्ज हुए मामले...पढ़ें पूरी खबर

थूर गांव में गत मंगलवार को विधवा के आत्महत्या प्रकरण में तीन दिन से चल रहा धरना गुरूवार को समाप्त हुआ। पुलिस की ओर से नाबालिग के अपहरण के मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लेने पर परिजनों की ओर से धरना समाप्त किया गया। पुलिस ने मृतका के पुत्र की रिपोर्ट पर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर मृतका का शव परिजनों को सुपुर्द किया। पुलिस की मौजूदगी में थूर गांव में विधवा का अंतिम संस्कार हुआ।

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Updated: 05 Mar 2021, 10:35 AM IST

भीनमाल. थूर गांव में गत मंगलवार को विधवा के आत्महत्या प्रकरण में तीन दिन से चल रहा धरना गुरूवार को समाप्त हुआ। पुलिस की ओर से नाबालिग के अपहरण के मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लेने पर परिजनों की ओर से धरना समाप्त किया गया। पुलिस ने मृतका के पुत्र की रिपोर्ट पर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर मृतका का शव परिजनों को सुपुर्द किया। पुलिस की मौजूदगी में थूर गांव में विधवा का अंतिम संस्कार हुआ। गौरतलब है कि थूर गांव में विधवा ने नाबालिग बेटी के अपहरण से क्षुब्ध होकर केरोसीन उड़ेलकर आग लगा दी थी। गंभीर अवस्था में उसे इलाज के लिए शहर के राजकीय चिकित्सालय में भर्ती करवाया था। जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी। परिजनों व ग्रामीणों की ओर से नाबालिग को बरामद करने, शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने व रामसीन थानाधिकारी को निलंबित करने की मांग को लेकर धरना दिया जा रहा था। डीएसपी शंकरलाल ने बताया कि विधवा के आत्महत्या प्रकरण में धरनार्थियों से बुधवार को भी चार बार वार्ता हुई थी। गुरूवार को धरनार्थी पोस्टमार्टम व शव उठाने के लिए तैयार हुए। उसके बाद धरना समाप्त हुआ। परिजनों व ग्रामीणों की मांगों पर कार्रवाई जा रही है। रामसीन थानाप्रभारी पर जो आरोप लगाए गए हैं, उसको लेकर भी एएसपी की ओर से जांच की जा रही है। गौरतलब है कि थूर गांव में मंगलवार को नाबालिग के अपहरण से आहत थूर निवासी हवियां कंवर (58) पत्नी स्व. मंगलसिंह केरोसीन उड़ेलकर आत्महत्या कर दी। मृतका की नाबालिग पुत्री का 23 फरवरी को दो जनों ने अपहरण कर लिया था।
इन पर मारपीट व शव के साथ बदसलूकी का मामला दर्ज
शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद वाहन में थूर ले जाने के दौरान 72 जिनालय के पास एक व्यक्ति के साथ मारपीट करने व शव के साथ बदसलूकी करने का मामला पुलिस थाने में दर्ज हुआ। पुलिस निरीक्षक दुलीचंद गुर्जर ने बताया कि थूर निवासी भंवरसिंह ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि वह मृतका के परिजनों के साथ शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों के साथ शव को थूर ले जा रहा था। उस दौरान 72 जिनालय के पास गुन्दाऊ निवासी सर्जनसिंह व निंबावास निवासी टीकमसिंह ने वाहन आगे रोककर उसके साथ मारपीट की। इसके अलावा शव के साथ बदसलूकी करते हुए वाहन से पटकने की कोशिश की। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। दरअसल, सर्जनसिंह गुन्दाऊ भोमिया राजपूत युवा महा परिषद के जिलाध्यक्ष व भाजपा युवा मोर्चा के जिला महामंत्री हैं। वहीं टीकमसिंह राणावत भाजपा जुंजाणी मण्डल अध्यक्ष हैं।

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned