बिजली का संकट झेल रह रीको के उद्यमी

पिछले 10 दिनों से रीको में हो रही है विद्युत कटौती, उद्यमियों की बढ़ी समस्या

भीनमाल. सरकार भले ही उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए कई तरह के प्रयास कर रही है, लेकिन यहां रीको में उद्यमी कई तरह की समस्या झेल रहे है। यहां रीको औद्योगिक क्षेत्र के उद्यमी पिछले 10 दिनों से अघोषित विद्युत कटौती का खामियाजा भुगत रहे है। निरंतर अंतराल में बार-बार बिजली कटौती से उद्यमियों के हाल बेहाल है। रीको में घंटों तक विद्युत आपूर्ति गुल रहती है। ऐसे में उद्यमियों को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। पिछले 10 दिनों से रीको में अघौषित विद्युत कटौैती हो रही है। डिस्कॉम ने उद्यमियों को निर्बाध व गुणवत्तापूर्ण बिजली उपलब्ध करवाने के लिए यहां पर 33 केवी ग्रिड सब स्टेशन बनाया है, लेकिन उसके बाद भी रीको क्षेत्र में निरंतर अंतराल में घंटों तक बिजली गुल रहती है। यह जीएसएस पिछले पांच साल से राजपुरा-भरूड़ी 33 केवी लाइन से जुड़ा हुआ है। ऐसे में लोड़ बढऩे से बार-बार कटौती का दौर जारी रहता है। ऐसे में उद्यमियों को इस जीएसएस का कोई फायदा नहीं मिल रहा है। उद्योगों में विद्युत फॉल्ट व विद्युत भार बढऩे से बार-बार बिजली कटौती का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा उद्योग इकाइयों में पर्याप्त वॉल्टेज नहीं मिलने से उद्योगों की मशीने खराब हो जाती है। खासकर आईस उद्योग को बिजली गुल होने से आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है। बार-बार विद्युत फॉल्ट के चलते उद्योगों को निर्बाध रूप से बिजली आपूर्ति नहीं मिल पा रही है। उद्यमियों का कहना है कि हाल यह है कि कई बार दिनभर विद्युत आपूर्ति बंद रहती है। ऐसे में श्रमिकों के भी रोजगार पर संकट खड़ा हो जाता है। उद्योगों को निर्बाध रूप से बिजली मिलने पर उद्यमियों को खासी राहत मिल सकती है। डिस्कॉम के अधिकारियों का कहना है कि रीको जीएसएस के अलग से लाइन खींचने की प्रक्रिया चल रही है। रेलवे की स्वीकृति नहीं मिलने से अटका हुआ है।
बिजली गुल रहने से बंद रहता है कामकाज
रीको के उद्यमियों का कहना है कि बिजली बंद रहने से रीको में घंटों तक कामकाज बंद रहता है। बिजली गुल रहने पर श्रमिक भी दिनभर बैठे रहते है। श्रमिकों को भी काम नहीं करने के बाद भी मजदूरी देनी पड़ती है। ऐसे में यहां रीको में बनने वाले माल का लागत मूल्य बढ़ जाता है। प्रतिस्पद्र्धा के दौर में यहां के उद्योग गुजरात के उद्योग से पिछड़ जाते है।
बिजली की समस्या
रीको में पिछले दस दिनों से बिजली की समस्या है। निरंतर अंतराल में घंटों तक बिजली गुल रहती है। यही स्थिति रही तो उद्योगों के सामने संकट खड़ा हो जाएगा। समय पर विद्युत आपूर्ति की समस्या का समाधान नहीं हुआ, तो उद्यमी आंदोलन करेंगे।
सोमाराम परिहार, सचिव, रीको व्यापार संघ-भीनमाल
सुविधाएं नहीं है
रीको में कई समस्या है। बिजली की समस्या भी बढ़ गई है। यहां जीएसएस लगाने के बाद भी अघौषित विद्युत कटौती होती रहती है। ऐसे में उद्यमियों को परेशान होना पड़ रहा है।
जोगाराम पटेल, उद्यमी
लोड़ बढऩे की वजह
रीको जीएसएस राजपुरा-भरूड़ी ग्रामीण फीडऱ से जुड़ा हुआ है। इस फीडऱ पर लोड़ बढऩे से विद्युत आपूर्ति बंद रखी जाती है। पिछले दो दिन से वीसीबी खराब होने से समस्या हुई थी। रीको के लिए अलग से 33 केवी लाइन खींचने की प्रक्रिया चल रही है। रेलवे की स्वीकृति मिलने पर नई लाइन खींची जाएगी।
अनिल कुमार सैन, सहायक अभियंता, डिस्कॉम-भीनमाल

khushal bhati Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned