ऐसी रही जालोर नगरपरिषद की 8वीं साधारण बैठक

Dharmendra Ramawat

Updated: 16 Feb 2019, 11:09:14 AM (IST)

Jalore, Jalore, Rajasthan, India

जालोर. नगरपरिषद सभागार में गुरुवार दोपहर करीब ढाई बजे बोर्ड की साधारण बैठक का आयोजन सभापति भंवरलाल माली की अध्यक्षता, उपसभापति मंजू सोलंकी व आयुक्त शिकेश कांकरिया की मौजूदगी में हुई। बैठक में वर्ष 2018-19 के संशोधित बजट और वर्ष 2019-20 के बजट प्राक्कलन के अनुमोदन पर सदस्यों ने विचार रखे। बैठक में वर्ष 2019-20 के लिए 77 करोड़ 15 लाख 77 हजार का बजट अनुमोदित किया गया। इसमें से करीब ३१ करोड़ का बजट विकास के कार्यों पर खर्च किया जाएगा। बैठक शुरू होने के कुछ देर बाद ही नेता प्रतिपक्ष मिश्रीमल गहलोत ने सभापति माली से नगरपरिषद में अब तक नियम विरुद्ध हुए कार्यों और जारी किए गए पट्टों के बारे में पूछा। इस पर सभापति ने उनकी बात काटते हुए कहा कि वे सदन में इस तरह की बेतुकी बात ना करें, नगरपरिषद में जो भी काम हो रहे हैं वे सभी नियमानुसार ही होते हैं। इस पर मौजूद सभी पार्षदों की हंसी छूट गई। गहलोत का कहना था कि हर बार हुई बैठकों में सभापति और अधिकारी कहते कुछ हैं और प्रोसीडिंग में कुछ और ही लिखा जाता है। इसी तरह नगरपरिषद में आय के स्रोत बढ़ाने के लिए उपसभापति सोलंकी ने शहर में अपंजीकृत मैरिज हॉल का रजिस्ट्रेशन करने, पार्षद हंसमुख नागर ने नगरपरिषद की खाली पड़ी जमीनों को नीलाम करने, आवेदकों को पट्टे जारी करने व यूटी टैक्स खत्म करने का सुझाव रखा।
एसीबी में जांच की मांग
बैठक के दौरान पार्षद भरत मेघवाल ने सभापति से बैठक में आज तक आयुक्त की ओर से किए गए कार्यों की एसीबी से जांच कराने का प्रस्ताव पारित करने की मांग की, लेकिन मेघवाल की इस बात पर किसी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। कुछ देर तक सदन में सन्नाटा रहा और इसके बाद सभापति ने एजेंडे के अनुसार बजट के मुद्दे पर ही बोलने को कहा।
कांग्रेस का बोर्ड बनते ही शुरू होगा सीवरेज
बैठक के दौरान उपसभापति सोलंकी ने शहर में दूसरे चरण के तहत अधूरे पड़े सीवरेज का काम शुरू करवाने की बात कही। उनका कहना था कि इसके लिए दिन ब दिन बजट और बढ़ता जाएगा। तभी वहां मौजूद पार्षद वेलाराम ने कहा कि सीवरेज का काम कांग्रेस का बोर्ड बनने के बाद ही शुरू होगा। वहीं नेता प्रतिपक्ष का कहना था कि उपसभापति सवाल का जवाब देने के बजाय सवाल कर रही हैं। चार साल बीत चुके हैं, लेकिन अब तक किसी की नींद नहीं उड़ी है।
देवजी की दमकल नहीं आएगी...
बैठक में मौजूद कुछ पार्षदों का कहना था कि सांसद ने छोटी दमकल की घोषणा की थी, लेकिन अब नगरपरिषद ने इसकी खरीद नहीं की है और ना ही देवजी की दमकल आ पाएगी। ऐसे में परिषद को खुद के स्तर पर ही बैठक में प्रस्ताव लेकर इसकी खरीद करनी होगी। इसके बाद पार्षदों के सुझाव पर करीब ३५ लाख से छोटी दमकल और २५ लाख की एक और गुल्ली मशीन खरीदने का प्रस्ताव पारित किया गया। इसके लिए जल्द ही टेंडर किए जाएंगे।
बोर्ड बनने से बाद इतनी बैठकें
नगरपरिषद में भाजपा बोर्ड बनने के बाद 7 साधारण बैठकें, 3 आवश्यक बैठकें, एक विशेष और एक अति आवश्यक बैठक हुई है। पहली साधारण बैठक 16 जनवरी 2015 को, दूसरी 20 मई 2015, तीसरी 7 जनवरी 2016, चौथी 9 फरवरी 2016, पांचवी 19 फरवरी 2016, छठी 10 फरवरी 2017 और सातवीं 14 फरवरी 2018 को साधारण बैठक हुई। इसके अलावा 12 दिसम्बर 2014, 23 फरवरी 2014 और 16 मार्च 2015 को तीन आवश्यक बैठकें बुलाई गई। वहीं 14 फरवरी 2017 विशेष बैठक और 4 जून 2018 को सवेरे 11 बजे अति आवश्यक बैठक बुलाई गई थी।
पिछला बजट भी कागजी...
नगरपरिषद की ओर से पिछले वर्ष 2018-19 का कुल अनुमानित बजट 7542.68 लाख रखा गया था। इसमें विकास के समस्त कार्यों के लिए 2479 लाख का रिवाइज बजट निर्धारित किया गया था, लेकिन परिषद इसका महज 25 फीसदी 769.11 लाख ही खर्च कर पाई। इसी तरह होर्डिंग्स से अनुमानित आय 15 लाख आंकी गई और आवक महज साढ़े तीन लाख के करीब हुई। वहीं कुल राजस्व की प्राप्ति 5395.60 लाख होनी थी, जिसके मुकाबले 14 प्रतिशत 765.23 लाख ही आवक हो पाई। इसी तरह नीलामी से 5 करोड़ आने थे, लेकिन आया कुछ भी नहीं। वहीं रोडवेज के बकाया 26 लाख में से भी कुछ वसूल नहीं पाए। प्रतिमाह स्टाफ सैलेरी के लिए 70 लाख की जरूरत पड़ती है और सरकार से इसके लिए 33 लाख आते हैं, लेकिन हर माह 37 लाख की कमी के कारण परिषद को साल भर में 4.44 करोड़ का जुगाड़ करना पड़ता है। इस बार भी विकास के नाम पर करीब 32 करोड़ का बजट रखा गया है, लेकिन इसे खर्च करने के लिए आय भी तो होनी चाहिए।
- मिश्रीमल गहलोत, नेता प्रतिपक्ष, नगरपरिषद जालोर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned