बिना रोक दौड़ रहे ओवरलोड वाहन, परिवहन विभाग मौन

क्षेत्र से गुजरने वाले नेशनल हाइवे से बेरोक-टोक गुजरने वाले ओवरलोड वाहन टैक्स चोरी कर राज्य सरकार को चूना लगा

By: शंकर शर्मा

Published: 15 Apr 2016, 11:59 PM IST

सांचौर. क्षेत्र से गुजरने वाले नेशनल हाइवे से बेरोक-टोक गुजरने वाले ओवरलोड वाहन टैक्स चोरी कर राज्य सरकार को चूना लगा रहे हंै।  माखुपुुरा स्थित आरटओ चैक पोस्ट सख्ती के अभाव में ओवरलोड वाहन धड़ल्ले से परिवहन करते रहते है। जिनकी न तो जांच होती है और न ही चालान किया जाता  है।  ऐसे में बिना रोक टोक गुजरने वाले वाहन सरकार को राजस्व के नाम पर लाखों रुपए का चुना प्रतिदिन लगा रहे हैं। जिसकी तरफ न तो परिवहन विभाग सख्त है और न ही प्रशासन की ओर से इसको लेकर कोई ठोस पहल हुई। इधर, गुजरात के विभिन्न शहरों से पंजाब सहित उत्तरी राज्यों में जाने वाले ये ओवरलोड वाहन जहां राज्सव का  नुकसान पहुंचा रहे हैं, वहीं हादसे को भी निमंत्रण दे रहे हैं।

केवल कहने को आरटीओ चैक पोस्ट
माखुपुरा स्थित आरटीओ चेक पोस्ट  से गुजरात से आने व जाने वाले वाहनों की जांच के नाम पर खानापूर्ति की जाती है। जिसकी वजह से ओवरलोड वाहन आसानी से इस रास्ते से गुजरते हैं।  नेशनल हाइवे से गुजरने वाले क्षमता से अधिक लोडेड वाहन हाईवे को भी नुकसान पहुंचाते हैँ। गुजरात के कांडला से चलकर पंजाब , हरियाणा की ओर से जाने वाले वाहनो ंपर पवन चक्की के उपकरण सहित औद्योगिक इकाइयों की मशीनों की ढुलाई होती है। जो हाईवे पर हादसे का सबब भी बन जाती है। भारी मशीनों से भरे लदान के माल को पार करवाने के लिए विभाग की ओर से महज खानापूर्ति कर ली जाती है। वहीं दूसरी ओर कभी कभार ऐसे भारी वाहनों को हाईवे के पुल के ऊपर से गुजराना भी खतरे से खानी नहीं होता है। प्रशासन द्वारा पूर्व में गांधव स्थित पुल पर ऐसे भारी लदान वाले वाहनों को गुजाराने के लिये हाईवे के समान्तर अलग से सड़क बनाई गई।

लगा रखी है पाबंदी
हाईवे पर दौडऩे वाले ओवरलोड वाहन नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। राज्य व केन्द्र सरकार के स्पष्ट निर्देश के बावजूद भी वाहन क्षमता से अधिक ढुलाई कर माल का परिवहन करते हैं।


कार्रवाई करेंगे..
ओवरलोड वाहनों की समय- समय पर जांच की जाती है, कांटा पर्ची व नियम विरूद्ध क्षमता से ज्यादा माल भरने पर कार्रवाई कर जुर्माना वसूला जाता है। अगर ऐसा कोई मामला सामने आया तो कार्रवाई करेंगे।
जवाहर मीणा परिवहन निरीक्षक सांचौर
शंकर शर्मा
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned