सोलर ऊर्जा के सब्सिडी उपकरण नहीं देने पर रोष

सोलर ऊर्जा के सब्सिडी उपकरण नहीं देने पर रोष
सोलर ऊर्जा के सब्सिडी उपकरण नहीं देने पर रोष

Dharmendra Ramawat | Updated: 27 Feb 2019, 11:40:27 AM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

ज्ञापन में विभाग द्वारा कार्रवाई नहीं करने पर दी आंदोलन की चेतावनी

सांचौर. सोलर ऊर्जा सब्सिडी मामले में डीलर द्वारा मनमानी पर किसानों ने रोष जताया है और किसानों ने मामले में विभाग पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग करते हुए कलक्टर को ज्ञापन भेजा है। ज्ञापन में किसानों ने बताया कि स्थानीय डीलर ने किसानों से सोलर ऊर्जा के नाम पर दर्जनो किसानो से एडवांस रकम लेकर अपने पास रख ली, जबकि सोलर प्लांट लेने वाले किसान लंबे समय से डीलर व विभाग के बीच चक्कर काटने को मजबूर है। ऐसी स्थिति में विभाग की उदासीनता व डीलर की मिलीभगत की वजह से किसानों में सोलर ऊर्जा के प्रति किसानो को मोहभंग होता जा रहा है। किसानों ने बताया कि क्षेत्र में अधिकांश ऐसे किसान भी है। जिनमें विभाग की मिलीभगत से स्वीकृत सोलर प्लांट किसी अन्य काश्तकार को नियम विरूद्ध आवंटन कर दिया गया है। जिसको लेकर विभाग को भी कई बार शिकायतें भी की गई, किन्तु कोई कार्यवाही नहीं हो रही है। इस दौरान किसानो ने उक्त मामले में दोषी के खिलाफ कार्यवाही नहीं होने पर अंादोलन की चेतावनी दी है।
लंबे समय से सक्रिय है एजेंट
राज्य सरकार द्वारा किसानो को सौर ऊर्जा पर सब्सिडी देने की योजना लागू होने के बाद जानकारी के अभाव में उक्त योजना के तहत झांसे में लेने के लिए कई गिरोह जो ऐजेंट के रूप में लंबे समय से सक्रिय है।
लक्ष्य भी अधूरा
क्षेत्र में फव्वारा सब्सिडी का भी यही हाल है। जिसमें किसान सब्सिडी के नाम पर दुकानदार किसानों को सब्सिडी का लालच देकर फव्वारे बेच देते है। किन्तु विभाग की ओर से सब्सिडी स्वीकृत नहीं हो पाती है। ऐसे में सब्सिडी के नाम पर किसानो को ठगा जा रहा है। वहीं उक्त मामले को लेकर पत्रिका में समाचार भी प्रकाशित कियाथा।समाचार प्रकाशित होने पर सहायक निदेशक रामचंद्र यादव ने विज्ञप्ति जारी कर बताया कि जिन किसानों ने प्रशासनिक स्वीकृति के अभाव में पीराराम को जो कृषक हिस्सा राशि जमा करवाई है, वे जमा करवाई गई राशि का विवरण उद्यान विभाग के कार्यालय में दे। जिससे संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जा सके।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned