दो अप्रेल की घटना का बदला लेने के लिए लगाई थी आग

दो अप्रेल की घटना का बदला लेने के लिए लगाई थी आग
The fire was set to take revenge, four arrested by police

Dharmendra Ramawat | Updated: 08 May 2018, 10:52:08 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

चार आरोपित गिरफ्तार, एक आरोपित फरार, बाल अपचारी भी वारदात में था शामिल

सांचौर. सांचौर पुलिस ने हार्डवेयर गोदाम में आग लगाने की वारदात का सोमवार को खुलासा किया। पुलिस ने वारदात में शामिल चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। वारदात में शामिल एक नाबालिग को भी संरक्षण में लेकर बाल कल्याण समिति को सौंपा है। वहीं वारदात में एक आरोपी अभी फरार है। पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने सांचौर पुलिस थाने में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर खुलासा किया। इस मामले को लेकर सांचौर व्यापार महासंघ पिछले पंाच दिनों से धरना प्रदर्शन कर रहा था। प्रकरण के विरोध में सोमवार को व्यापारियो ने पूर्ण बंद का आह्वान किया था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ११ अप्रेल को शिवनाथपुरा में आए हार्डवेयर के गोदाम में कुछ लोगों ने आग लगा दी थी। वारदात को लेकर स्थानीय पुलिस थाने में प्रकरण दर्ज करवाया गया था। जिसकी जांच के लिए अतिरिक्त पुलिस अध्ीक्षक बींजाराम मीणा, डिवायएसपी फाऊलाल मीणा, सांचौर थानाधिकारी सुखाराम बिश्नोई के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया। जिसमें तकनीकी सहायता, घटनास्थल के आस-पास रहने वाले लोगों से गोपनीय रूप से जानकारी प्राप्त कर संदिग्धों को चिह्नित किया जाकर पूछताछ की गई। सभी तथ्यों के आधार पर वारदात में शामिल ठाकराराम पुत्र मोहनलाल मेघवाल, पोपटलाल पुत्र अजाराम मेघवाल, रमेश कुमार पुत्र तेजाराम मेघवाल, पिन्टू उर्फ विनोद पुत्र घांसीराम जाति खटीक निवासी शिवनाथपुरा सांचौर, एक नाबालिग व एक अन्य द्वारा वारदात को अंजाम देना जानकारी में आया। पुलिस ने इनकी संदिग्घ गतिविधियों पर नजर रखी तथा बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।
ऐसे दिया अंजाम... पेट्रोल से लगाई थी आग
आरोपितों ने शहर के पेट्रोल पंप से ११ अप्रेल की शाम को करीब ८.३० बजे बोतल में पेट्रोल भरकर लाए थे। पुलिस को शक नहीं हो, इसके लिए आरोपी बोतल में पेट्रोल लाने के बाद घर चले गए। रात्रि को करीब एक बजे के बाद सूनसान होने पर आरोपितों ने मोबाइल को घर पर ही रख दिया। पूर्व में तय निर्धारित स्थल पर पहुंच कर पेट्रोल से आग लगाकर मौके से फरार हो गए।
सवेरे भीड़ के साथ घटना देख रहा था आरोपित
गोदाम में आग लगाने की वारदात के बाद आरोपी पिन्टू उर्फ विनोद खटीक अपने साथियों के साथ वारदात के बाद भी अल सवेरे जले हुए गोदाम को भीड़ के साथ देख रहा था। वहीं पुलिस आरोपितो की तलाश कर रही थी। वारदात में शामिल पिन्टू उर्फ विनोद शहर में कबाड़ी कार्य करता है। जो डिस्कॉम के चोरी हुए तार सहित अन्य सामग्रियो में चोरी की वारदात में आरोपित रह चुका है।
यह था कारण... २ अप्रेल की घटना का बदला लेने के लिए दिया वारदात को अंजाम
२ अप्रेल को सांचौर बंद के दौरान हुए उपद्रव की वारदात के दौरान हुई झड़प के मामले को लेकर आरोपी नाराज थे। जिसको लेकर बदला लेने की भावना से योजना को अंजाम देकर सूनसान गली में स्थिति हार्डवेयर के गोदाम में आग लगाने का प्लान बनाया। वारदात के दिन आरोपितों ने पहले साथ में शराब पी थी। वहीं देर रात्रि को सूनसान होने पर वारदात को अंजाम दिया।
ऐसे मिली सफलता... मौके से बरामद बोतल व संदिग्ध गतिविधि से
पुलिस ने वारदात में प्रयुक्तपेट्रोल की बोतलों के लेबल के आधार पर पड़ताल की। वहीं संदिग्ध गतिविधियों को लेकर भी नजर रखनी शुरू कर दी। जिस पर पुलिस उप निरीक्षक केशाराम, राजेश कुमार, देवाराम एएसआई, गोकाराम हैड कांस्टेबल, मांगीलाल हैड कान्स्टेबल, मीठलाल, भंवरसिंह, चन्द्रप्रकाश, बाबूलाल , पीराराम, सुरेश कुमार, प्रकाश, त्रिलोकसिंह के नेतृत्व में टीम गठित की गई। जिन्होंने मुखबीर तंत्र व तकनीकी आधारों पर मामले का पर्दाफाश किया।
इनका कहना है
हार्डवयेर गोदाम में आग लगने के मामले में छह आरोपियों ने मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। जिसमें चार आरोपियो को गिरफ्तार किया है। एक बाल अपचारी भी है, जिसे संरक्षण में लिया गया है। वहीं फरार आरोपी की तलाश जारी है। जिसे शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
-विकास शर्मा, एसपी जालोर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned