मंत्री ने बैठक में यह कहा अधिकारियों से और फिर...

मंत्री ने बैठक में यह कहा अधिकारियों से और फिर...
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चन्द मीना ने विभागीय योजनाओं की समीक्षा की

Khushal Singh Bhati | Updated: 14 Sep 2019, 10:44:20 AM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चन्द मीना ने विभागीय योजनाओं की समीक्षा की

जालोर. राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चन्द मीना ने कलक्ट्रेट में समीक्षा बैठक में कहा कि जिले में उपभोक्ताओं को गुणवत्तायुक्त एवं निर्धारित मात्रा में सामग्री मिलने के साथ ही अन्तिम छोर पर बैठे व्यक्ति तक सरकार द्वारा प्रदत्त सभी सुविधाएं पहुंचाने की दिशा में अधिकारियों को कार्य करना होगा। उन्होंने जिले में खाद्य सुरक्षा के तहत बकाया अपीलों के निस्तारण के क्रम में कहा कि आहोर, जालोर एवं रानीवाड़ा उपखण्ड क्षेत्र में विशेष अभियान संचालित किया जाकर इनका निस्तारण कर इसे शून्य पर लाएं। उन्होंने कहा कि जिले में खाद्य सुरक्षा से संबन्धित मामलों में पात्र व्यक्ति का नाम जुडऩा चाहिए ताकि उन्हें सरकार द्वारा प्रदत्त सुविधायें मुहैया हो सकें। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत नया एक्ट राज्य में आने वाला है जिसके तहत लगभग सभी क्षेत्र के उपभोक्ताओं के साथ होने वाली ठगी से बचाव होगा। वहीं उपभोक्ताओं को पैकेजिंग सामग्री में निर्धारित मात्रा में सामग्री मिलने के साथ ही एमआरपी से अधिक रााशि वसूल करने वालो के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री ने जिला रसद अधिकारी को निर्देश दिए कि एफसीआई से गेहूं का उठाव करने वाले डीलरों द्वारा उसी दिन ऑनलाइन करने की सुनिश्चितता करवाएं तथा उपभोक्ताओं को गुणवत्तायुक्त गेहूँ मिलना चाहिए। इसी प्रकार डीलरों के बकाया कमीशन एवं परिवहन बिलों का भुगतान तत्काल करें वही उचित मूल्य की दुकानों के अनुकम्पात्मक नियुक्ति के मामलों में जिले में लम्बित 7 मामलों को राज्य स्तर पर भिजवायें ताकि उनका निस्तारण किया जा सके।
बेहतर प्रबंधन के निर्देश
मंत्री ने कहा कि उचित मूल्य के दुकानों के किन्ही कारणों से रिक्त रहने की स्थिति में निकटवर्ती दुकानदार से सामग्री का वितरण करवाएं। साथ ही यदि किसी स्थान पर अन्यत्र व्यक्ति उचित मूल्य की दुकान चला रहा है तो उसें निरस्त कर अन्य पात्र व्यक्ति को दुकान का आंवटन करें। उन्होंने बैठक में उपस्थित उपखण्ड अधिकारियों एवं रसद विभाग के निरीक्षकों को निर्देशित किया कि वे अपने-अपने क्षेत्र की उचित मूल्य की दुकानों का प्रत्येक छह माह में कम से कम एक बार निरीक्षण अवश्य ही करें साथ ही गैस एवं पेट्रोल पम्पों का निरीक्षण करे ताकि उपभोक्ताओं को शुद्ध एवं उचित मात्रा में सामग्री मिल सकें। बैठक में जिला रसद अधिकारी लल्लूराम मीणा ने विभागीय योजनाओं की जानकारी दी। बैठक में पूर्व विधायक एवं जिलाध्यक्ष डॉ. समरजीत सिंह ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना में बकाया लोगों को विद्युत कनेक्शन देने एवं ग्राम पंचायतों के परिसीमन के तहत प्राप्त शिकायतों का शीघ्र ही निस्तारण करने की आवश्यकता जताई। बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टांक, अतिरिक्त कलक्टर छगनलाल गोयल, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामचन्द्र गरवा, सायला उपखण्ड अधिकारी श्रीमती गोमती शर्मा एवं भीनमाल उपखण्ड अधिकारी दौलतराम चौधरी, पदाधिकारी सवाराम चौधरी सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी आदि उपस्थित थे।
जनसुनवाई में पहुंचे परिवादी
सवेरे सर्किट हाउस में जन सुनवाई करते हुए विभिन्न लोगों की परिवेदनाओं को मंत्री से सुना और समस्याओं के निस्तारण करने के निर्देश दिए। जन सुनवाई में पंचायतीराज विभाग, राजस्व विभाग, सार्वजनिक निर्माण विभाग, खनिज विभाग, जन स्वास्थ्य एवं अभियान्त्रिकी विभाग, समाज कल्याण, नगर परिषद एवं रसद आदि विभागों से सम्बन्धित विभिन्न लोगों ने अपनी परिवेदनाओं को रखा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned