जैसावास में बंधक बनाकर रखी गई बालिका के मेडिकल में यह तथ्य आए सामने


- जैसावास प्रकरण में बालिका का जालोर में हुआ मेडिकल, पुलिस ने लिए बयान

By: khushal bhati

Published: 03 Dec 2019, 10:23 AM IST

जालोर. बागोड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत जैसावास गांव में बालिका द्वारा अपने ही पिता पर बलात्कार करने का आरोप लगने और प्रकरण दर्ज होने के बाद सोमवार को उसका जालोर में मेडिकल करवाया गया। प्रकरण में सोमवार को बालिका के पुलिस ने बयान पंजीबद्ध किए। साथ ही जालोर के राजकीय अस्पताल में मेडिकल करवाया गया। पुलिस के अनुसार मेडिकल टीम का कहना है कि प्रकरण करीब 10 दिन पुराना है, इसलिए अभी मामले में स्पष्ट रूप से कुछ कहा नहीं जा सकता। वहीं सेंपल ले लिए गए हैं। एफएसएल जांच के बाद ही मामला स्पष्ट हो पाएगा। पुलिस उप अधीक्षक (महिला उत्पीडऩ) कैलाश विश्नोई ने बताया कि बालिका का मेडिकल करवाया गया। साथ ही उसके 161 के बयान हुए। मामले में पुलिस का कहना है कि बालिका के बयान के आधार पर अब अग्रिम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इससे पूर्व रविवार को यह सनसनीखेज मामला बागोड़ा थाने में दर्ज हुआ था। जिसके तहत बालिका ने अपने ही पिता के खिलाफ बलात्कार के गंभीर आरोप लगाए थे। आरोप था कि बालिका की माता और उसके पिता के बीच में अनबन के बाद उसकी माता ने कहीं और शादी कर ली थी, जबकि बालिका अपने पिता के पास ही रह रही थी। इस दौरान बालिका ने पिता को परिवार की ही एक महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। इस स्थिति में महिला और बालिका के पिता दोनों ने बालिका को जंजीरों में जकड़ लिया था। बालिका का आरोप है कि इस अवधि में उसका पिता उसे दादी के पास नहीं सुला कर अपने साथ सुलाता था और इस अवधि में उससे बलात्कार भी किया। दो दिन पूर्व ही बालिका उसकी कैद से छूटी और पास कुडा ध्वेचा निवासी अपने मामा के यहां पहुंचकर घटनाक्रम से अवगत करवाया। मामा द्वारा रिपोर्ट पेश करने के बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है।
गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित
मामले में आरोपी पिता की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस उप अधीक्षक विश्नोई के अनुसार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए थाना प्रभारी के निर्देशन में विशेष टीम का गठन किया गया है। जल्द ही आरोपी पिता को दस्तयाब कर लिया जाएगा, जिसके बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
मामा के संरक्षण में भेजा बालिका को
इस प्रकरण के बाद बालिका सदमे में है। जालोर में मेउिक के बाद अब बालिका को उसके मामा के यहां संरक्षण में भेजा गया है। उनकी देखरेख में ही बालिका अब रहेगी।
आज 16 4 के बयान होंगे
पुलिस के अनुसार बालिका घटनाक्रम के बाद काफी सहमी हुई है, लेकिन मामले में यह भी साफ है कि उसे पिता बांधकर रखता था। बालिका के मंगलवार को भीनमाल में 16 4 के बयान होंगे। दूसरी तरफ आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास भी चल रहे हैं। आरोपी की गिरफ्तारी के साथ ही मामला साफ हो जाएगा।

khushal bhati Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned