शहर में वाहन चोर सक्रिय, एक और बाइक चोरी

शहर में वाहन चोर सक्रिय, एक और बाइक चोरी
Vehicle thieves active in the city, another bike theft

Dharmendra Ramawat | Updated: 11 Aug 2018, 11:30:10 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

पुलिस के दावों की खोल रहे पोल

सांचौर. क्षेत्र में बढ़ती वाहन चोरियों की वारदातें पुलिस प्रशासन की सुरक्षा व शांति व्यवस्था के दावों की पोल खोल रही है। शहर में रात्रिकालीन गश्त के नाम पर महज औपचारिकता बरती जा रही है। जिससे आरोपी आसानी से वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं। गुरुवार देर रात करीब १ बजे एक और बाइक चोरी का प्रकरण स्थानीय पुलिस थाने में दर्ज हुआ है। पुलिस के अनुसार पमाणा हाल निजी हॉस्टल सांचौर निवासी सुखराम पुत्र देवाराम बिश्नोई की बाइक गुरुवार रात हॉस्टल के आगे खड़ी थी। जिसे अज्ञात चोर चुराकर ले गए। जिसका आस-पास पता करने के बावजूद कोई सुराग नहीं लगा। पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की। गौरतलब है कि पिछले एक साल में चोरी की वारदातों पर नजर डालें तो इनमें से अधिकांश आज भी कागजों में दफन है। जिसका ना तो राज खुल पाया है और ना ही आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है। कमजोर खुफिया तंत्र व प्रभावी गश्त के अभाव में शहर की सुरक्षा भगवान भरोसे है। रात्रिकालीन में शहर में पैदल व काले शीशे लगे वाहनों व अनजान बाइक सवारों की ना तो सख्ती से जांच होती है और ना ही पुलिस इस मामले में गम्भीरता दिखा रही है। ऐसे में बिना नंबरी गाडिय़ा अपराधिक वारदातों का बड़ा कारण बनता जा रहा है। इसको लेकर परिवहन विभाग भी उदासीन बना हुआ है।
सुरक्षित नहीं वाहन, दुकानों में भी चोरी
शहर में वाहन चोर गिरोह का आंतक इस कदर है कि पलक झपकते ही ये लोग वाहन को गायब कर देते हैं। दिन दहाड़े दुपहिया वाहनों को चोर उड़ा ले जाते हैं और सूचना के बावजूद ना तो पुलिस मौके पर पहुंचती है और ना ही नाकाबंदी कर आरोपियों को पकडऩे के प्रयास किए जाते हैं। ऐसी वारदातें अधिकांश बार होने के चलते लोगों का पुलिस की कार्यशैली के प्रति मोहभंग हो रहा है। शहर में रात्रि के समय घरों के बाहर वाहनों को खड़ा करना खतरे से खाली नहीं है। घरों के बाहर खड़े वाहनों को लेकर पार्किंग सुविधा के अभाव में जंजीर से ताला लगाते हैं या अन्य टोटके आजमाते हैं। वहीं दूसरी ओर पिछले माह शहर में एक साथ 7 दुकानें के ताले टूटने व चोरी की वारदातों का भी पुलिस अब तक खुलासा नहीं कर पाई है। ऐसे में पुलिस प्रशासन की निष्क्रियता की बदौलत शहर में चोरियों की वारदातों में बढ़ोतरी हो रही है।
खुलेआम हो रही वारदातें
शहर में रात के समय चोरी की वारदातें खुलेआम हो रही हैं। गुरुवार देर रात करीब 1 बजे एक निजी हॉस्टल संचालक की बाइक भी हॉस्टल के आगे से अज्ञात चोर चुरा ले गए। जिसका आस-पास पता करने के बावजूद भी कोई सुराग नहीं लगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned