ग्रेनाइट फैक्ट्री में दीवार गिरी, 1 की मौत, 4 घायल


- बिशनगढ़ रोड स्थित श्रीराम ग्रेनाइट में हुआ हादसा, 108 एंबुलेंस से घायलों को लाया गया अस्पताल

By: khushal bhati

Updated: 12 Nov 2017, 12:40 PM IST

जालोर. शहर के बिशनगढ़ मार्ग स्थित ग्रेनाइट इकाई श्रीराम ग्रेनाइट में रविवार सवेरे हुए हादसे में 1 महिला मजदूर की मौत हो गई, जबकि 5 मजदूर घायल हो गए। जानकारी के अनुसार सवेरे मजदूर फैक्ट्री में एक पानी के टैंक की मरम्मत का कार्य कर रहे थे। इस दौरान यह दीवार गिर गई। इस दौरान यहां काम कर रहे मजदूर उसकी चपेट में आ गए। सूचना के बाद मौके पर 108 एंबुलेंस मौके पर पहुंची, जिसके बाद घायलों को राजकीय अस्पताल पहुंचाया गया। यहां से घायलों को जालोर के राजकीय अस्पताल पहुंंचाया। इधर, सूचना पर जालोर एसपी विकास शर्मा, पुलिस उप अधीक्षक दुर्गसिंह राजपुरोहित, पीएमओ डॉ. एसपी शर्मा भी अस्पताल पहुंचे और घायलों का उपचार शुरू करवाया। वहीं गंभीर घायलों को रेफर किया गया।
इसकी मौत और ये घायल
इस हादसे में फूसी (१८) पुत्री मंगलाराम निवासी सांफाड़ा की जालोर के राजकीय अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हुई। वही इस हादसे में बाबूलाल पुत्र जोइताराम, हिमताराम पुत्र वसनाराम, सागर पुत्र हवताराम, पिंटा पुत्री जामताराम और कंकर घायल हो गए। इसमें गंभीर रूप से घायल बाबूलाल व हिमताराम को रेफर किया गया।
लोगों की जुटी भीड़
फैक्ट्री में हादसे की सूचना पर बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ भी अस्पताल में जुट गई। सूचना पर परिजन भी मौके पर पहुंचे और रुदन और क्रंदन से माहौल गमगीन हो गया। इस दौरान यहां पर समाजसेवी भी पहुंचे। गौरतलब है जालोर में ग्रेनाइट की 1300 इकाइयां है और सुरक्षा के मानकों की यहां पालना नहीं होती। यह पहला मौका नहीं है जब ग्रेनाइट इकाइ में हादसा हुआ हो और उसमें किसी श्रमिक की मौत हुई हो। इससे पूर्व भी कई हादसे हो चुके हैं, जिसमें मजदूरों की मौत हुई। लेकिन उसके बाद इन इकाइयों में मजदूरों की सुरक्षा को लेकर केाई व्यवस्था तक न हीं है। ऐसे में जब कभी हादसा भी होता है तो मौके पर प्राथमिक उपचार जैसी सुविधा तक नहीं मिल पाती है। जबकि गंभीर हालात में तो स्थितियां और भी विकट होती है।

khushal bhati Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned