बावड़ी में श्रमदान कर जल संरक्षण का संकल्प लिया

www.patrika.com/rajasthan.news

- अमृतïïम्-जलमïïï् अभियान, प्राचीन चंडीनाथ मंदिर की बावड़ी पर शहरवासियों ने श्रमदान किया।


भीनमाल. राजस्थान पत्रिका के अमृतम्-जलमïïï् अभियान के तहत रविवार को शहर की प्राचीन चंडीनाथ मंदिर की बावड़ी पर शहरवासियों ने श्रमदान किया। सामाजिक संगठनों के युवा कार्यकर्ताओं ने श्रमदान कर बावड़ी के स्वरूप को निखारा। अभियान के तहत सुबह 8.30 पर बावड़ी पर शहरवासी व सामाजिक कार्यकर्ता जुटने लगे।
युवाओं ने अलग-अलग टोलियां बनाकर बावड़ी की सफाई करना शुरू किया। कई सालों तक शहरवासियों की प्यास बुझाने वाली बावड़ी की साफ-सफाई के लिए युवाओं का जोश देखते ही बन रहा था। कोई झाडू लेकर बावड़ी की सीढीयों की सफाई कर रहे थे, तो कोई एकत्र हुए कचरे तगारी लेकर बाहर निकाल रहे थे। साफ-सफाई के बाद पानी से बावड़ी को धोया गया। इसके बाद बावड़ी के पानी पर जमे कचरे की भी सफाई की गई। बावड़ी पर श्रमदान के दौरान पहुंचे कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ समरजीतसिंह भी युवा जोश के साथ बावड़ी की साफई में जुट गए। जिलाध्यक्ष ने बावड़ी में प्रवेश करते ही झाडू लेकर सफाई शुरू कर दी। उन्होंने युवाओं को समय-समय पर बावड़ी जैसे प्राकृतिक धरोहर के संरक्षण व साफ-सफाई के लिए श्रमदान करने की बात कही। साफ-सफाई के बाद मौजूद शहरवासियोंं व युवाओं ने पत्रिका के अभियान के माध्यम से जल संरक्षण की शपथ ली। जीवन में पानी का दुरूपयोग न करने व दूसरों को भी पानी का दुरूपयोग नहीं करने देने की भी शपथ ली। इस मौके लक्ष्मणसिंह बांकली, मीठालाल माली, मीठुसिंह नरूका, विरेन्द्रसिंह दुदिया, प्रकाश माली, भूपेन्द्रसिंह बेडल, रमेश जीनगर, चंदनसिंह, प्रवीण जीनगर, प्रवीण लखारा, प्रकाश सुंदेशा, सुनिल मौर्य, ओटाराम मेघवाल, जब्बार खां कादरी, माली युवा संस्थान के अध्यक्ष किशोर सांखला, राहुल सैन, भाणाराम मेघवाल, भाविन व्यास सहित कई शहरवासी व युवा मौजूद थे।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned