बारहवीं तक कक्षाओं के लिए एक कमरा

बारहवीं तक कक्षाओं के लिए एक कमरा
Jalore photo

Shankar Sharma | Publish: Jun, 29 2015 11:43:00 PM (IST) Jalore, Rajasthan, India

 शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से करोड़ों रूपए खर्च किए जा रहे है, लेकिन आज भी दूरस्थ गांवों में शिक्षा के मंदिर बदहाल है

बागोड़ा। शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से करोड़ों रूपए खर्च किए जा रहे है, लेकिन आज भी दूरस्थ गांवों में शिक्षा के मंदिर बदहाल है। कई स्थानों पर भवन जर्जर है, तो कई जगह कक्षा कक्षों का अभाव बना हुआ है।

निकटवर्ती नया चैनपुरा ग्राम पंचायत मुख्यालय में बारहवीं तक का विद्यालय दो कमरों में चल रहा है। एक कमरे में प्रधानाचार्य कक्ष है, तो दूसरा कक्ष शिक्षण व्यवस्था के लिए काम में लिया जा रहा है। इस विद्यालय में अन्य कक्ष पूरी तरह से जर्जर हो चुके हैं। विद्यालय में 16 0 के करीब नामांकन है। विद्यालय में दो कक्षों को छोड़कर पूरा भवन जर्जर है।

नया चैनपुरा ग्राम पंचायत में करीब 3200 की आबादी है। इस ग्राम पंचायत के अधीन गुजरवाड़ा, बगोटी, जूना चैनपुरा, बिछावाड़ी गांव आते है। इस उच्च माध्यमिक विद्यालय में कक्षा कक्षों के अभाव व भवन जर्जर होने से अभिभावक बच्चों को भेजने से कतराते है। कुछ अभिभावक अपने बच्चों को उपखंड मुख्यालय पर पढ़ने के लिए भेजते है। लेकिन अधिकांश अभिभावक अपने बच्चों को इसी विद्यालय में पढ़ाने के लिए मजबूर है।

मुख्य द्वार भी क्षतिग्रस्त
नया चैनपुरा विद्यालय के मुख्य गेट के पिल्लर उखड़े हुए है। ऎसे में स्कूल के नाम का बोर्ड भी नीचे गिरा पड़ा है। ऎसे में यहां से गुजरने वाले लोगों को स्कूल केे नाम का पता नहीं चल पाता है। विद्यालय का शिक्षा विभाग के अधिकारी निरीक्षण भी करते है।लेकिन बदहाल विद्यालय भवन की दशा सुधारने की दिशा में अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है।

17 में से छह कार्यरत
नया चैनपुरा गांव का यह विद्यालय वर्ष 2008 -09 में उच्च प्राथमिक से माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत हुआ था, इसके बाद वर्ष 2014-15 में माध्यमिक से उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत हुआ। लेकिन सुविधाओं के नाम पर विद्यालय में कोई खास विकास नहीं हुआ। विद्यालय में कुल 17 पद स्वीकृत है। लेकिन यहां छह शिक्षक ही सेवा दे रहे है।

करवाया अवगत
भवन की स्थिति व कक्षा कक्षों की समस्या को लेकर हम उच्चाधिकारियों को अवगत करवा चुके है। फिलहाल एक कमरे में ही शिक्षण कार्य करवा रहे है। डॉ. अविनाश, कार्यवाहक प्रधानाचार्य, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय चैनपुरा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned