अनंतनाग हमले में शामिल जैश-ए-मोहम्मद के 3 आतंकी गिरफ्तार, 6 जवान हुए थे शहीद

Anantnag Terror Attack: अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में शामिल मुख्य पाकिस्तानी आतंकी ने स्टील की गोलियों का उपयोग किया था। यह स्टील की गोलियां सीआरपीएफ ( CRPF ) जवानों की बुलेट प्रूफ जैकेट को भी पार कर गई थी।

By: Prateek

Published: 11 Jul 2019, 09:39 PM IST

(अनंतनाग): दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में 12 जून को हुए आतंकी हमले ( Anantnag Terror Attack ) के संबंध में पुलिस ने आज जैश-ए-मोहम्मद ( jaish-e-Mohammad ) के तीन आतंकियों को गिरफ्तार किया है। इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ ( CRPF ) के पांच जवानों की मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि केपी रोड थाना प्रभारी अरशद अहमद खान घायल हुए थे। जिन्होंने 16 जून को दिल्ली के एम्स अस्पताल में दम तोड़ दिया था।

पहले की रैकी, फिर हमला

Anantnag Terror Attack

गिरफ्तार आतंकियों ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि स्थानीय जैश कमांडर ( Jaish-e-Mohammad Commander ) फयाज पुंजू एक पाकिस्तानी आतंकवादी को एक आरोपी के घर पर लाया गया था। पुलिस के अनुसार पाकिस्तानी आतंकवादी 8 जून को अनंतनाग में था उसने क्षेत्र के आसपास लक्ष्यों की टोह ली थी। इसके बाद उसने अनंतनाग की व्यस्त केपी रोड पर अर्द्धसैनिक बलों पर हमला किया था।

 

स्टील की गोलियों का किया था इस्तेमाल

Anantnag Terror Attack

बता दें कि सीआरपीएफ द्वारा की गई एक आंतरिक जांच से पता चला है कि आतंकवादियों ने इस हमले में स्टील की गोलियों का इस्तेमाल किया था, जो कि शहीद सीआरपीएफ जवानों के बुलेट प्रूफ जैकेट को पार कर गई थी। इस घटना से सीआरपीएफ के अधिकारियों की चिंता बढ़ गई थी। इसके बाद सीआरपीएफ के शीर्ष अधिकारियों ने कश्मीर में आतंकवाद रोधी अभियानों के लिए तैनात अपने जवानों के लिए बुलेट-प्रूफ जैकेट को और भी बेहतर करने का फैसला किया है।

जम्मू—कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़े: सेना की ताकत से कुछ हालिस नहीं होगा,राजनीतिक वार्ता से हो कश्मीर विवाद का हल-फारूक अब्दुल्ला

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned